नई दिल्ली | आम आदमी पार्टी में मचा घमासान एक बार फिर सतह पर आता दिखाई दे रहा है. ताजा घटनाक्रम में अरविन्द केजरीवाल ने कुमार विश्वास के बेहद करीब माने जाने वाले कपिल मिश्रा को मंत्री पद से हटा दिया है. उनसे जल संसाधन समेत सभी मंत्रालय छिनकर कैलाश गहलोत और राजेंद्र गौतम को दे दिए है. कपिल को हटाये जाने पर सफाई देते हुए उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा की जल प्रबंधन ठीक नही होने के कारण उन्हें हटाया गया.

उधर मंत्री पद जाते ही कपिल मिश्रा ने बागी तेवर अपना लिए है. उन्होंने पहले ट्वीट के जरिये फिर मीडिया से बात करते हुए कहा की कल मैं टैंकर घोटाले से सम्बंधित कुछ बड़े खुलासे करूँगा. मैंने इससे सम्बंधित कुछ लोगो के नाम आज केजरीवाल को भी बताये है. कपिल ने आगे लिखा की मैं पुरे मंत्रिमंडल में अकेला मंत्री हूँ जिस पर भ्रष्टाचार के कोई आरोप नही है. इसके अलावा मेरे ऊपर सीबीआई की रेड भी नही पड़ी है.

कपिल यही नही रुके उन्होंने आगे कहा की हम भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई लड़ते रहेंगे, अन्दर और बाहर दोनों जगह से सफाई करेंगे, झाड़ू चलाते रहेंगे. पार्टी छोड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा की यह मेरी पार्टी है, मैं 2004 में हुए आन्दोलन से साथ हूँ और पार्टी छोड़कर नही जाऊँगा. मालूम हो की कपिल मिश्रा ने आज सुबह ही एसीबी चीफ मुकेश मीना को चिट्ठी लिख पुछा था की टैंकर घोटाले में शीला दीक्षित से अब तक पूछताछ क्यों नही हुई है?


उधर कुमार विश्वास ने भी कपिल को हटाये जाने पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा की मैं अपने सभी कार्यकर्ताओं को यकीन दिलाता हूँ की भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाना अन्दर और बाहर जारी रखेंगे. भारत माता की जय. उन्होंने एक अन्य ट्वीट में शायराना अंदाज में कहा की अगर तुम दोस्त हो तो हाथो में ये खंजर क्यों, अगर दुश्मन है तो मेरा सर क्यों नही जाता.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE