alwar killing 620x400

अलवर । पीछले हफ़्ते राजस्थान के अलवर में हुई उमर की हत्या के मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ़्तार किया है। पुलिस का दावा है कि गिरफ़्तार किए गए दोनो युवक गौरक्षक है और गौरक्षक दल के सदस्य है। दोनो आरोपियों ने अपना गुनाह क़बूल कर लिया है। फ़िलहाल मामले में पुलिस चार और लोगों की तलाश कर रही है। हालाँकि पुलिस ने पहले इस घटना में गौरक्षको के शामिल होने से इंकार किया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पुलिस ने अलवर हत्याकांड में दो आरोपियों को गिरफ़्तार किया है। अलवर के एएसपी मूल सिंह राणा ने इस बारे में बताते हुए कहा की हमने दो आरोपी रमवीर गुज्जर और भगवान सिंह को गिरफ़्तार किया है। उन दोनो ने घटना में शामिल होने की बात स्वीकार की है। उन्होंने बताया कि हमने एक ख़ाली पिकअप को गाँव से जाते हुए देखा था। हमें शक हुआ की यह पिकअप गौतस्करी में शामिल हो सकता है।

मूल सिंह ने आगे बताया की आरोपियों ने पिकअप के वापिस आने पर हमला करने की योजना बनायी। जैसे ही वह पिकअप वापिस आया तो उन्होंने सड़क पर कील डालकर ट्रक को रोकने की कोशिश की। आरोपियों के अनुसार ट्रक कुछ दूर पर जाकर रुका। इसके बाद ट्रक से गोलीबारी शुरू हो गयी जिसके जवाब में हमने भी गोलीबारी की। आरोपियों ने उमर की हत्या और उसके शव को क्षत-विक्षत कर उसे रेल की पटरियों पर फेंकने की बात स्वीकार की है।

मालूम हो कि राजस्थान के गोविंदगढ़ में गौतस्करी के आरोप में तीन लोगों पर कथित गौरक्षको ने हमला कर दिया था। जिसमें उमर की मौत हो गयी और बाक़ी दो गम्भीर रूप से घायल हो गए। जिनका हरियाणा के अस्पताल में इलाज चल रहा है। इंड़ीयन इक्स्प्रेस से बात करते हुए घायल तहिर और जावेद ने पूरी आप बीती बतायी। उनका आरोप है की गोविंदगढ़ पहुँचते ही उनके ट्रक पर गोलीबारी की गयी। जिसमें उमर की मौत हो गयी।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE