it-10-rs-fake-obv

नई दिल्ली | 10 रूपए के सिक्को को लेकर देश भर में चल रही अफवाहों को ख़ारिज करते हुए आरबीआई ने कहा की देश में 10 रूपए के नकली सिक्को का परिचालन नही है. जो लोग इस तरह की अफवाह फैला रहे है वो गलत है , लोगो को उन पर ध्यान नही देना चाहिए. आरबीआई ने कहा की दुकानदारों को हर तरह के सिक्को में आदान प्रदान करना चाहिए.

मालूम हो की देश भर के अन्दर कुछ दुकानदार, 10 रूपए के सिक्के स्वीकार नही कर रहे है. इन दुकानदारों को कहना है की चूँकि बाजार में 10 रूपए के नकली सिक्के प्रचलन में है इसलिय इनको स्वीकार नही किया जा रहा है. कुछ दुकानदारों ने अपने हिसाब से नकली और असली सिक्को की पहचान की हुई है. देश भर में फैली अफवाहों के अनुसार जिन सिक्को में ₹ का चिन्ह नही बना हुआ है वो सब नकली है.

10-rupees-coin

 

नोट बंदी के बाद ज्यादातर बैंक सिक्को के साथ पुराने नोटों को बदल रहा है. ऐसे में कुछ लोगो इन सिक्को को इसलिए लेने से मना कर रहे है क्योकि बाजार में दुकानदार इन सिक्को को स्वीकार नही कर रहे है. देश भर से आ रही शिकायतों को देखते हुए आरबीआई ने स्पष्टीकरण जारी किया है. आरबीआई का कहना है की देश मे 10 के नकली सिक्के नही है, अगर ऐसी कोई अफवाह है तो उस पर ध्यान नही देना चाहिए. ये सभी सिक्के क़ानूनी तौर पर वैध है.

आरबीआई ने कहा की जो सिक्के 2011 से पहले के है उन सिक्को पर ₹ का चिन्ह नही है. 2011 के बाद ₹ चिन्ह वाले सिक्को को छापा गया. चूँकि ये सिक्के काफी सालो से प्रचालन में है इसलिए समय समय पर इनके डिजाईन में बदलाव किये जाते रहे है. हमारी सभी लोगो को सलाह है की ₹ चिन्ह वाले और बिना ₹ चिन्ह वाले, दोनों सिक्के वैध है और आप इनका इस्तेमाल हर तरह के लेन देन में कर सकते है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें