malik-and-pawan-panday

लखनऊ | समाजवादी पार्टी में लाख कोशिशो के बावजूद भी सब कुछ ठीक नही चल रहा है. हालांकि शिवपाल यादव ने कल कहा था की परिवार और पार्टी में सब कुछ ठीक चल रहा है लेकिन आज हुए घटनाक्रम से यह बिलकुल नही लगता की पार्टी और परिवार में हुई कलह खत्म हो चुकी है. आज अखिलेश ने सभी बागी और निष्काषित लोगो के साथ समाजवादी पार्टी की कोर कमिटी की बैठक बुलाई है वही शिवपाल ने अखिलेश के एक करीबी मंत्री को पार्टी से बाहार का रास्ता दिखा दिया है.

बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस करके शिवपाल सिंह यादव ने अखिलेश के बेहद करीबी और मंत्री पवन कुमार पाण्डेय को पार्टी से छह साल के लिए निष्काषित कर दिया. शिवपाल ने प्रेस वार्ता में कहा की पवन पाण्डेय को आशु मालिक के साथ धक्कामुक्की , मारपीट करने और पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप में पार्टी से छह साल के लिए निष्काषित किया जा रहा है.

पवन पाण्डेय अयोध्या से समाजवादी पार्टी के विधायक है. पवन पाण्डेय अखिलेश के बेहद करीबी माने जाते है और सरकार में कैबिनेट मंत्री के पद आसीन है. शिवपाल ने मीडिया को यह भी बताया की उन्होंने अखिलेश यादव को चिट्ठी लिखकर मंत्री पद से बर्खास्त करने का भी आग्रह किया है. मालुम हो की सोमवार को समाजवादी की बैठक में आशु मालिक को लेकर माहौल काफी गरमा गया था,

बैठक में आशु मालिक के साथ अभद्रता की गयी थी. इसके अलावा आशु मालिक ने यह भी आरोप लगाया था की अखिलेश के घर पर उनके साथ पवन पाण्डेय ने धक्कामुकी और मारपीट की. इसकी शिकायत उन्होंने मुलायम सिंह यादव से की. उधर अखिलेश यादव ने आज समाजवादी पार्टी की कोर कमिटी की बैठक बुलायी है. इस बैठक में अखिलेश ने सभी निष्काषित और बागी लोगो को भी बुलाया है. माना जा रहा है की अखिलेश ने इन सभी को रथ यात्रा के मद्देनजर बुलाया है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें