UP CM Akhilesh elected Samajwadi party national  president

लखनऊ | समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के साथ सभी सुलह की कोशिशे नाकाम होने के बाद अखिलेश यादव ने आज अपने समर्थक विधायको की बैठक बुलाई थी. अखिलेश आवास पर सुबह 10 बजे शुरू हुई इस बैठक में आजम खान ने पहुंचकर सबको चौंका दिया. आजम खान , पार्टी के दो गुटों में बंटने के बाद यह तय नही कर पा रहे थे की वो किस खेमे में जाये.

आजम खान पिछले कई दिनों से दोनों खेमो के बीच सुलह कराने का प्रयास कर रहे थे. लेकिन सारी उम्मीद खत्म होने के बाद उन्होंने भी किसी एक पक्ष को चुनने का फैसला किया. अखिलेश की बैठक में पहुंचकर उन्होंने इस बात के संकेत दे दिए की वो आने वाले विधानसभा चुनावो में अखिलेश गुट की तरफ से ही चुनावो में ताल ठोकेंगे.

मिली जानकारी के अनुसार अखिलेश की विधायको के साथ चल रही बैठक खत्म हो गयी है. अखिलेश खेमे ने दावा किया है की 206 विधायक इस बैठक में पहुंचे. सभी विधायको से एक हलफनामे पर हस्ताक्षर भी कराये गए. खबर है की ये हलफ़नामा चुनाव आयोग को भेजकर उन तक सन्देश पहुँचाया जाएगा की 90 फीसदी विधायक उनके साथ है.

उधर अखिलेश यादव ने उन सभी जिला अध्यक्षों की बहाली कर दी है जिनको शिवपाल यादव ने पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया था. इनमे देवरिया के राम इकबाल यादव, कुशीनगर के राम अवध यादव , आजमगढ़ के हवलदार यादव एवं मिर्जापुर के आशीष यादव को तुरंत बहल कर दिया गया है. प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ने इस आशय की जानकारी देते हुए कहा की मुख्यमंत्री के आदेश पर सभी जिला अध्यक्षों को बहाल कर दिया गया है.

विधायको के साथ संपन्न हुई बैठक में चुनावो की रणनीतियो पर चर्चा की गयी. माना जा रहा है की बहुत जल्द अखिलेश खेमा उम्मीदवारों की लिस्ट जारी कर सकता है. इस बैठक में अखिलेश ने सभी लोगो से चुनाव की तैयारी में लगने का आदेश दिया. उनको कहा गया की किसी भ्रम में न रहे, चुनाव की तैयारिया करे. इसके अलावा बैठक में रैलियों, प्रचार अभियान और रथ यात्रा कार्यक्रम पर भी चर्चा हुई.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE