जी न्यूज के संपादक सुधीर चौधरी ने कहा कि यह संगठन का आंतरिक मामला है। उन्होंने कहा, ‘‘जी मीडिया देश में बड़ा मीडिया घराना है। लोग छोड़कर जाते हैं और भर्ती होती है यह एक आम बात है।

हिन्दी टेलीविजन चैनल जी न्यूज द्वारा जेएनयू विवाद के कवरेज के तरीके के खिलाफ चैनल के एक प्रोड्यूसर विश्वदीपक ने विरोध में इस्तीफा दे दिया। सोशल मीडिया पर साझा किये गए अपना इस्तीफा पत्र में प्रोड्यूसर विश्वदीपक ने कहा है, ‘‘हम पत्रकार अक्सर दूसरों पर सवाल उठाते हैं लेकिन कभी खुद पर नहीं, हम दूसरों की जिम्मेदारी तय करते हैं लेकिन अपनी नहीं। हमें लोकतंत्र का चौथा खंभा कहा जाता है लेकिन क्या हम, हमारी संस्थाएं, हमारी सोच और हमारी कार्यप्रणाली लोकतांत्रिक है?’’

और पढ़े -   योगी राज में खनन माफिया बेख़ौफ़, हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओ के साथ की मारपीट, एक घायल

उन्होंने लिखा है, ‘‘ये सवाल सिर्फ मेरे नहीं हैं। हम सबके हैं। जेएनयूएसयू अध्यक्ष कन्हैया कुमार को ‘‘राष्ट्रवाद’’ के नाम पर जिस तरह से फ्रेम किया गया और मीडिया ट्रायल करके ‘देशद्रोही’ साबित किया गया वो बेहद खतरनाक प्रवृत्ति है।’’ आगे उन्होंने लिखा है कि जिस तरह जेएनयू मुद्दे को जी न्यूज चैनल ने कवर किया उस पर उन्हें आपत्ति है।

और पढ़े -   अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में खत्म हो सकती की जुमे की आधी छुट्टी

संपर्क किये जाने पर जी न्यूज के संपादक सुधीर चौधरी ने कहा कि यह संगठन का आंतरिक मामला है। उन्होंने कहा, ‘‘जी मीडिया देश में बड़ा मीडिया घराना है। लोग छोड़कर जाते हैं और भर्ती होती है यह एक आम बात है। किसी भी मामले में संबंधित व्यक्ति जेएनयू विवाद पर किसी भी स्टोरी से जुड़े हुए नहीं थे। अगर कोई मुद्दा था तो उन्होंने संगठन में किसी से भी मुद्दे पर चर्चा नहीं की। उनका इस्तीफा संगठन का आंतरिक मामला है।’’  (जनसता)

और पढ़े -   वध के लिए पशुओ की बिक्री पर बैन से भड़का केरल कहा, आरएसएस की फासीवादी नीतियों को नही होने देंगे लागु

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE