Preacher-Zakir-Naik

कथित भड़काऊ भाषणों को लेकर विभिन्न जांचों के दायरे में कट्टर वहाबी, सलफी विचारधारा के प्रसारक डॉ.जाकिर नाईक के खिलाफ मुंबई पुलिस अपनी रिपोर्ट अगले हफ्ते राज्य सरकार को सौंप सकती है.

मुंबई पुलिस के एक उच्च अधिकारी ने कहा, ‘यह रिपोर्ट तैयारी के अपने अंतिम चरण में है और इसे अगले हफ्ते सौंपे जाने की संभावना है. पुलिस की योजना इस रिपोर्ट को कुछ दिनों पहले सौंपने की थी, लेकिन अरशी कुरैशी की गिरफ्तारी से उन्हें अतिरिक्त सूचना के लिए इंतजार करना पड़ रहा है.

और पढ़े -   गाय पर आस्था रखने वाले लोग हिंसा नहीं करते: मोहन भागवत

अधिकारी ने आगे बताया कि ‘पुलिस ने नाईक को अभी तक क्लीन चिट नहीं दी है. गौरतलब रहें कि कुरैशी को कोच्चि स्थित एक महिला को कथित तौर पर आईएस में शामिल होने के लिए भड़काने के कारण  महाराष्ट्र एटीएस और केरल पुलिस की एक संयुक्त टीम ने गुरुवार को नवी मुंबई से गिरफ्तार किया. कुरैशी, नाईक के इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आईआरएफ) का कर्मचारी हैं.

और पढ़े -   मालेगांव ब्लास्ट: कर्नल पुरोहित के बाद अब दो और आरोपियों को मिली जमानत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE