लखनऊ | उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार के 100 दिन पुरे होने पर मुख्यमत्री योगी आदित्यनाथ सरकार का रिपोर्ट कार्ड पेश कर चुके है. योगी पहले ही अपनी सरकार के काम काज से संतुष्ट है लेकिन प्रदेश में कानून व्यवस्था के नाम पर अभी भी उनके पास कुछ कहने के लिए नही है. यह वही मुद्दा है जिसको बीजेपी ने चुनावो में खूब उछाला लेकिन सरकार बनने के 100 दिन बाद भी प्रदेश में कानून व्यवस्था चरमरायी हुई है.

इस बारे में न्यूज़ चैनल आज तक से बात करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा की हमारी सरकार के समय अपराध के आंकड़े इसलिए ज्यादा आ रहे है क्योकि अब थानों में 100 फीसदी एफआईआर हो रही है. अब अपराधियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल होती है इसलिए आंकड़े बढे है. यह सरकार और प्रशासन के प्रयासों का ही फल है की प्रदेश में एक विश्वास का माहौल बना है. हमारा 100 दिन का काम अच्छा रहा है.

और पढ़े -   महाराष्ट्र में फडनवीस की पत्नी का कंसर्ट, टिकेट बेचने का जिम्मा पुलिस पर

देश में गौरक्षा के नाम पर हो रही गुंडागर्दी पर योगी आदित्यनाथ ने कहा की हमारे प्रदेश में इस तरह की एक भी घटना नही है. लेकिन मैं मानता हूँ की कानून को किसी को भी हाथ में लेने का अधिकार नही है. प्रदेश में ऐसे शरारती तत्वों से कड़ाई से निपटा जायेगा. हमारे यहाँ लक्ष्मण रेखा तय है. जो भी गौरक्षा के नाम पर कानून तोड़ेगा उसे बर्दाश्त नही किया जायेगा. गौसेवा हिन्दू धर्म में सनातन परम्परा रही है लेकिन इसके नाम पर हिंसा के लिए कोई जगह नही होनी चाहिए.

और पढ़े -   मदरसों में राष्ट्रगान नही गाने की अपील पर मौलाना असजद रजा खान के खिलाफ कोर्ट सख्त , पुलिस से मांगी रिपोर्ट

योगी ने आगे कहा की हमने अवैध बूचडखानो पर इसलिए रोक लगाई ताकि पशुओ की अवैध तस्करी न हो सके. हमने जवादेही तय की हुई है. जिस भी रूट पर गौतस्करी होगी, उस रूट के सभी थाने इसके लिए जिम्मेदार होंगे. ताजमहल पर दिए गये अपने बयान पर कायम रहते हुए उन्होंने कहा की ताजमहल एक पर्यटन स्थल हो सकता है लेकिन भारत की पहचान नही.

और पढ़े -   राजदीप सरदेसाई ने किया ऐसा ट्वीट की लोग पूछने लगे, क्या तुम पत्रकार हो?

योगी ने राम, रामायण और वेदों को भारत की पहचान बताया. उन्होंने हिन्दू को धर्मनिरपेक्ष धर्म बताते हुए कहा की विदेशो में श्रीराम और सनातन धर्म हिन्दू को मानते है लेकिन भारत में हमें साम्प्रदायिक कहा जाता है. राम मंदिर निर्माण पर उन्होंने कहा की लोगो में एक उम्मीद जगी है, दोनों पार्टियों को इस पर मिलकर किसी हल पर पहुँचाना चाहिए. इससे देश में सौहार्द बढेगा. सरकार की जो भी भूमिका होगी उसे हम निभाने के लिए तैयार है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE