लखनऊ | उत्तर प्रदेश में योगी सरकार बने 100 दिन हो चुके है. इस दौरान उन्होंने कई महतवपूर्ण निर्णय लिए तो कुछ क्षेत्रो में सरकार उम्मीद के अनुरूप प्रदर्शन नही कर पायी. मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी सरकार के 100 दिन का रिपोर्ट कार्ड पेश किया. सरकार के काम से संतुष्ट दिखे योगी आदित्यनाथ ने आने वाले समय में सरकार की योजना का खाका भी पेश किया.

19 मार्च को मुख्यमंत्री की शपथ लेने वाले योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को सरकार का रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए कहा की हम सरकार के पहले 100 दिन के कामकाज से संतुष्ट है. मीडिया को संबोधित करते हुए योगी ने सरकार की उपलब्धिया गिनाते हुए कहा की एंटी रोमियो स्क्वाड के गठन की वजह से प्रदेश में महिलाए खुद को सुरक्षित महसूस करने लगी है. इसके अलावा हमने किसानो का ख्याल रखते हुए पहले की तुलना में 5 गुना ज्यादा गेहू की खरीद की.

और पढ़े -   मोहम्मद कैफ और शबाना आजमी ने तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का किया स्वागत , हुए ट्रोल

अपने भाषण में किसानो को ज्यादा तवज्जो देते हुए योगी ने कहा की किसानो की सुरक्षा करना हमारी सरकार की पहली प्राथमिकता है. हमारा कर्तव्य है. हमने राज्य के गन्ना किसानो का करीब 22 हजार करोड़ रूपए का ऋण माफ़ किया . इसके अलावा गाँव को 24 घंटे बिजली देने के अपने वादे को पूरा करने के लिए हमने केंद्र की मोदी सरकार से अतिरिक्त बिजली आपूर्ति करने की मांग की है.

और पढ़े -   अमित शाह को जेल पहुँचाना मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी उपलब्धि: राणा अय्यूब

लखनऊ में आयोजित कार्यक्रम में बोलते हुए योगी ने कहा की पूर्व की सरकारों को कोसते हुए कहा की पिछले 14-15 सालो में यूपी परिवारवाद और जातिवाद में उलझ कर विकास से पिछड़ गया था. लेकिन हम बिना किसी भेदभाव के समाज के सभी वर्गों के लिए काम कर रहे है. इसलिए उत्तर प्रदेश सरकार हर साल 24 जनवरी को उत्तर प्रदेश दिवस के रूप में मनाएगी. बताते चले की विधानसभा चुनावो में बीजेपी ने 403 सीटो में से 325 सीटें जीत प्रचंड बहुमत हासिल किया था.

और पढ़े -   नैनीताल के सरकारी इंटर कॉलेज में महिला शिक्षिका के साथ ABVP कार्यकर्ताओ की बदसलूकी, थाने में शिकायत दर्ज

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE