नई दिल्ली। अपनी पार्टी में हाशिये पर चल रहे वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने बजट पर आम आदमी पार्टी के विधायकों की क्लास ली। इस क्लास में सिन्हा ने नये नवेले विधायकों को बजट की बारीकियां सिखाईं। दिल्ली विधानसभा में सिन्हा की मौजूदगी पर जब सवाल पूछा गया तो उन्होंने सफाई दी कि इसका राजनीति से कोई लेना देना नहीं है।

और पढ़े -   शिवराज में जंगलराज, बंधुआ मजदूरी से मना करने पर दलित महिला की काटी गयी नाक

लेकिन जब विधायकों के सवाल की बारी आई तो सबने मौजूदा केंद्र सरकार से जुड़े सवाल ही पूछे। बीजेपी में हाशिये पर माने जाने वाले सिन्हा आप विधायकों के सवालों पर सरकार और पार्टी का बचाव करते नजर आए।

सिन्हा ने बजट की सीक्रेसी को खत्म करने की वकालत की। राज्यों को भी बजट के लिए तारीख निश्चित करने की सलाह दी। वैसे तो मीडिया के लिए सिन्हा ने पहले ही हिदायत दे दी थी कि इस कार्यक्रम का राजनीति से कोई लेना देना नहीं। लेकिन जब विधायकों के सवाल की बारी आई तो सबने मौजूदा केंद्र सरकार से जुड़े सवाल ही पूछे और सिन्हा यहां सरकार का बचाव करते नजर आए।

और पढ़े -   जस्टिस खेहरः अग्रेज़ों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाने वाले अब्दुल्लाह और शेर अली अफरीदी का नाम सुना

बता दें कि दिल्ली विधानसभा का बजट सत्र 22 मार्च से शुरू हो रहा है। 28 मार्च को वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया बजट पेश करेंगे और सरकार ने बजट तैयार कर उसे मंजूरी के लिए केंद्र के पास भेज भी दिया है। इसलिए सवाल है की क्या इन बारीकियों का असर दिल्ली सरकार के दूसरे बजट में नजर आएगा। (ibnlive)

और पढ़े -   शरद यादव के आह्वान पर दिल्ली में एकजुट हुए विपक्षी दल

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE