gurn

जम्मू के हीरानगर में पाकिस्तान की तरफ से गई गोलीबारी में गंभीर रूप से घायल हुए गुरनाम सिंह जम्मू के अस्पताल में मौत से लड़ रहे हैं.

गुरुवार को आतंकियों की घुसपैठ को नाकाम करते हुए उन्होंने आतंकियों को भागने पर मजबूर कर दिया था. लेकिन इस दौरान वह गंभीर रूप से घयल हो गये. गुरनाम की बहन गुरजीत कौर ने कहा, “सुबह उसने फोन किया और बताया कि फायरिंग हो रही है. मुझे घर आना था पर फायरिंग की वजह से नहीं आ पा रहा हूं.”

गुरजीत ने आगे कहा कि जब मंत्री अपने कंधे का इलाज कराने के लिए विदेश जाते हैं, तो उनके भाई को क्यों नहीं भेज दिया जाता? उन्होंने कहा, ‘हम उनकी मौजूदा हालत से बहुत दुखी हैं. विदेश से डॉक्टरो की टीम ही क्यों नहीं बुलाई जा सकती?’

वहीँ गुरनाम के पिता कुलबीर सिंह का कहना है कि मोदी जी से निवेदन है कि बीएसएफ जवानों के लिए अलग से अस्पताल हो. उन्होंने गुरनाम की हालत को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए बेटे को दिल्ली जाने के बात भी कही.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें