a7_1480536944

चंडीगढ़ | नोट बंदी के बाद पुरे देश में कैश की किल्लत चल रही है. कुछ लोग इसी किल्लत का फायदा उठा नकली नोटों का धंधा पुरे जोर शोर से कर रहे है. चूँकि देश में अभी 2000 के नए नोट सभी के पास नही पहुंचे है इसलिए कुछ लोग नए नोट को स्कैन कर उसकी कॉपी बाजार में चला रहे है. हालांकि अभी तक अंदाजा था की यह बहुत थोड़े स्तर पर चल रहा होगा. लेकिन जो खबर चंडीगढ़ से आई है उसको सुनकर किसी के भी होश उड़ सकते है.

चंडीगढ़ में एक भाई बहन को 2000 के नकली नोट छापने और उन्हें बाजार में चलाने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया है. मोहाली में इन भाई बहन को एक ऑडी कार के साथ गिरफ्तार किया गया. ऑडी कार से पुलिस को 42 लाख रूपए की नकदी बरामद हुई है. सारी नकदी 2000 के नए नोट में थी. जांच करने पर पता चला की सारे नोट नकली है.

पूछताछ में दोनों ने बताया की वो 3 करोड़ के नकली नोट बाजार में सर्कुलेट कर चुके है. इसके अलावा दोनों 6 लोगो का कालाधन सफ़ेद कर चुके है. दोनों ने चंडीगढ़ इंडस्ट्रियल एरिया में एक ऑफिस भी खोला हुआ है. वहां की तलाशी लेने पर पुलिस को 20 लाख रूपए बरामद हुए. जिस ऑडी में दोनों को गिरफ्तार किया वो भी अभी खरीदी गयी है.

इनमे से एक , अभिनव 21 साल का और उसकी बहन विशाखा वर्मा 20 साल की है. दोनों ने बीटेक किया हुआ है और दोनों बहुत जल्द आमिर बनना चाहते थे. नकली नोट को बाजार में चला कर ही इन्होने एक पुरानी ऑडी कार 20 लाख रूपए में खरीदी थी. योजना के तहत कार के ऊपर लाल बत्ती लगाई गयी जिससे पुलिस नाके पर कोई भी इनको रोक न सके और ये कालेधन को आराम से सफ़ेद कर सके.

पुलिस को पूछताछ में पता चला की पहले इन्होने 2000 के 10 नकली नोट बाजार में चलाये. जब ये चल गए तो इन्होने 3 करोड़ रूपए के नकली नोट छापे. सोहाना थाना एसएचओ हरसिमरत सिंह बल ने बताया की कई दिनों पुलिस को उन लोगो का नाम पता लग चुका है जिन्होंने अपना कालाधन सफ़ेद करवाया है. बहुत जल्द उन लोगो के खिलाफ भी कार्यवाही की जायेगी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें