shahbu

पूर्व आरजेडी सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के मामले में सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को पूछा कि क्यों ना शहाबुद्दीन से संबंधित सारे केस दिल्ली ट्रांसफर कर दिए जाएं. साथ ही शहाबुद्दीन को दिल्ली की तिहाड़ जेल ट्रांसफर कर दिया जाए.

दरअसल पीड़ित के परिजनों ने सभी मामले को दिल्ली ट्रांसफर करने की मांग करते हुए शहाबुद्दीन को भी सिवान से दिल्ली ट्रांसफर किये जाने की मांग की हैं. इस पर सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को फिर से सुनवाई करेगा.

और पढ़े -   रिफत शारूक द्वारा बनाए गए दुनिया के सबसे छोटे सैटेलाइट को नासा ने किया लॉन्च

शहाबुद्दीन की तरफ से जेल ट्रांसफर का विरोध करते हुए कहा गया है कि शहाबुद्दीन के रिश्तेदारों को सीवान से दिल्ली आना पड़ेगा. साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि उनके खिलाफ राजनैतिक साजिश के चलते मामले दर्ज किए गए हैं.

बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि शहाबुद्दीन के खिलाफ 45 मामले लंबित हैं. मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट तय कर सकता है कि सारे 45 केस दिल्ली ट्रांसफर किए जाएं या नहीं और शहाबुद्दीन को दिल्ली की तिहाड़ जेल ट्रांसफर कर किया जाए.

और पढ़े -   एजेंडा तो हिंदू राष्ट्र का और राष्ट्रपति दलित, मनुस्मृति राज में दलित प्रेसिडेंट से कोई फर्क नही पड़ेंगा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE