502507-pti-kanhaiya-kumar-22

नई दिल्ली | पिछले 24 दिनों से लापता , JNU छात्र , नजीब अहमद का अभी तक कोई सुराग नही मिला है. दिल्ली पुलिस नजीब को ढूँढने में नाकाम रही है , लेकिन प्रदर्शन कर रहे छात्रों और नजीब के परिजनों पर बल प्रयोग करने में दिल्ली पुलिस कामयाब रही है. वही इस मुद्दे पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल राष्ट्रपति से मिले. राष्ट्रपति ने दिल्ली पुलिस और MHA को नोटिस भेज मामले की रिपोर्ट मांगी है.

अब इस मामले में , JNU के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार भी कूद पड़े है. उन्होंने नजीब को न ढूंढ पाने के लिए दिल्ली पुलिस की कड़ी आलोचना की. इसके अलावा बीजेपी पर कटाक्ष करते हुए कन्हैया कुमार ने कहा की जो लोग JNU से कंडोम ढून्ढ लेते थे , वो अब नजीब को नही ढूंढ पा रहे है. उन्होंने इस मामले में ABVP का हाथ होने का भी आरोप लगाया.

अपनी किताब ‘बिहार से तिहाड़’ की लौन्चिंग पर बोलते हुए कन्हैया कुमार ने कहा की यूनिवर्सिटी से 3000 कंडोम को ढूंढ निकालना यह एक हूनर है. लेकिन बीजेपी नेता इस हूनर का सही इस्तेमाल नही कर रहे है. अगर वो अपने इस हूनर का इस्तेमाल सही तरीके से करते तो अभी तक नजीब को ढूंढ लिया जाता. यह तो वही बात हुई ही कंडोम ढूंढ सकते है लेकिन नजीब को नही ढूंढ पा रहे है.

दरअसल कन्हैया कुमार का सीधा इशारा बीजेपी नेता ज्ञान देव आहूजा की तरफ था जिन्होंने JNU प्रकरण में बोलते हुए कहा था की JNU अय्याशियों का अड्डा है , वहां रोजना 3000 यूज्ड कंडोम, इतनी ही बियर की बोतल , 10 हजार सिगरेट के जले हुए फ़िल्टर और 500 एबॉर्शन की सुई बरामद होती है. ऐसी संस्था को बंद कर देना चाहिए. हालांकि ज्ञान देव आहूजा की इस टिप्पणी पर काफी बवाल भी हुआ था.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें