baldev singh video 647 081117111745

नई दिल्ली | केंद्र में मोदी सरकार बनने के बाद से ‘वन्देमातरम ‘ को लेकर एक नयी बहस छिड़ी हुई है. बीजेपी नेताओ का मानना है की जो लोग राष्ट्रगीत ‘वन्देमातरम’ नही गायेंगे वो देशभक्त नही है. जयपुर की बीजेपी शासित नगर पालिका में वन्देमातरम गाने को अनिवार्य करने के बाद यह बहस और भी तेज हुई है. इससे पहले मेरठ नगरपालिका में भी कुछ ऐसा ही फरमान जारी हो चुका है. वहां भी नगर पालिका पर बीजेपी का शासन है.

इन्ही बहस के बीच मीडिया में भी इस मुद्दे को लेकर काफी चर्चा हो रही है. बीजेपी प्रवक्ता और मंत्री लगातार इस बात पर जोर दे रहे है की जो लोग वन्देमातरम नही गाते वो देशभक्त नही है. बीजेपी की तरफ से यह देशभक्ति के सर्टिफिकेट की तरह हो गया है. जो वन्देमातरम गायेगा वो देशभक्त और जो नही गायेगा उसे पाकिस्तान चला जाना चाहिए. लेकिन यह फैसला करने से पहले बीजेपी और उससे जुड़े संगठन के नेताओ को थोड़ी अच्छी तैयारी कर लेनी चाहिए थी.

क्योकि मीडिया में चल रही बहस के दौरान कुछ ऐसे वाकये सामने आये है जिनमे बीजेपी प्रवक्ता या उससे जुड़े संगठन के लोग ही वन्देमातरम नही गा पाए. इसकी शुरुआत जी सलाम चैनल से हुई जिस पर एंकर के कहने के बाद बीजेपी प्रवक्ता नवीन कुमार मोबाइल में देखने के बाद भी वन्देमातरम नही सुना पाए. इसके बाद तो जैसे मीडिया बीजेपी नेताओं के पीछे ही पड़ गया. बीजेपी प्रवक्ता जीके अग्रवाल से लेकर संघ विचारक राकेश सिन्हा भी इस टेस्ट में फेल रहे.

एनडीटीवी पर राकेश सिन्हा से जब वन्देमातरम सुनाने के लिए कहा गया तो वो कन्नी काटते नजर आये जबकि जिन लोगो पर ये लोग ऊँगली उठा रहे थे उन्होंने तुरंत वन्देमातम गाकर दिखा दिया. इन सबके बीच सोशल मीडिया पर एक पुरानी विडियो वायरल हो रही है. इसमें आजतक के एंकर राहुल कँवल , यूपी के बीजेपी मंत्री बलदेव से औलख से वन्देमातरम सुनाने के लिए कहते है. कई बार गुजारिश करने के बाद भी वो वन्देमातरम गाने से मना कर देते है.

अब लोग बीजेपी नेताओं से सवाल कर रहे है की जो लोग राष्ट्रवाद ,देशभक्ति का सर्टिफिकेट बाँट रहे थे वो ही खुद वह सर्टिफिकेट लेने में विफल हो गए है. इसलिए क्या इन लोगो को भी अब पाकिस्तान भेज देना चाहिए. फ़िलहाल यह मामला बीजेपी पर ही बेक फायर करता हुआ दिख रहा है. इसलिए हो सकता है की आगे इस मुद्दे पर बहस के लिए टीवी पर आने से पहले बीजेपी प्रवक्ता वन्देमातरम याद करके आये.

देखे विडियो 


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE