mumbai-1_1475049116

मुंबई से सटे वसई में शेर अली खान को अब खुद को साबित करने में लगे हुए हैं कि वह आतंकी नहीं हैं. इसके लिए वह “माई नेम इज सईद शेर अली खान एंड आई एम नॉट ए टेरेरिस्ट.” की तख्ती के साथ पुलिस स्टेशन के बाहर धरना देकर बेठे हुए हैं.

दरअसल वॉट्सऐप पर कुछ लोगों ने उनकी सीसीटीवी फुटेज की पिक्चर के साथ उन्हें आतंकी बताकर वॉट्सऐप पर शेयर कर दी. जिसमे लिखा गया कि ये शख्स आतंकवादी हैं और तत्काल इसे पकड़कर पुलिस को सौंप दिया जाएँ. इस बारें में इस बारे में सईद बताते हैं, ‘मेरे एक दोस्त ने मुझे 22 सितंबर को बताया कि मेरा एक फोटो ह्वाट्सऐप पर वायरल हो गया है जिसके साथ लिखा है कि यह आदमी आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए जानकारियां जुटा रहा है.

और पढ़े -   सहारनपुर में हुई हिंसा के बाद अधिकारी घर घर जाकर मांग रहे माफ़ी, सुनाई बुद्ध के जीवन की कहानियां

सईद ने पुलिस शिकायत में कहा कि “मुझ पर मेंटनेंस के लिए अलग से 2000 रुपए देने को कहा जा रहा था, जिसे मैंने नहीं माना. इसके बाद मुझे देख लेने की धमकी दी गई और मेरा टेम्पो भी जला दिया. फिर व्हाट्सएप पर मेरी फोटो डालकर साथ में ये संदेश भी लिख दिया कि जो भी मुझे देखे, पुलिस को पकड़वाने में मदद करे.”

और पढ़े -   अब पाकिस्तान ने विडियो जारी कर किया भारतीय पोस्ट तबाह करने का दावा, भारतीय दावों को किया ख़ारिज

सईद का कहना है कि अब घर से बाहर निकलने पर हर कोई शक की नजर से देखता है. इसके अलावा कई धमकी भरे कॉल भी आ चुके हैं.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE