नई दिल्ली | देश में हाल फ़िलहाल के दौरान मुस्लिम समाज को निशाना बनाने की कई घटनाये हो चुकी है. गौरक्षा के नाम से शुरू हुआ यह दौर अब पहनावे और खान पान की दहलीज तक पहुँच चूका है. हाल ही में ट्रेन में हुई जुनैद ही हत्या उसी कड़ी का अगला रूप थी. जिसमे हिंसात्मक भीड़ ने जुनैद पर पहले कपड़ो को लेकर तो बाद में खान पीन को लेकर तंज कसा. इसी का नतीजा था की बुधवार को देश के कई शहरों में लोग इस हिंसा के खिलाफ इकठ्ठा हुए और एक सुर में इन हमलो की निंदा की.

और पढ़े -   सरकार लगाने जा रही है एक से अधिक बार हज पर रोक

इससे पहले मशहूर सामाजिक कार्यकर्ता शबाना हाशमी ने विरोध स्वरूप अपना अवार्ड वापिस कर दिया. मुस्लिमो पर हो रहे हमलो के विरोध में इस तरह अवार्ड को वापिस करना कुछ लोगो को रास नही आया और उन्होंने शबाना का मजाक बनाना शुरू कर दिया. इनमे बीजेपी सांसद और मशहूर अभिनेता परेश रावल भी शामिल थे. यह बात मशहूर पत्रकार वसीम अकरम त्यागी को रास नही आई.

अपने एक लेख में वसीम अकरम त्यागी ने परेश रावल को दोगला बताते हुए लिखा की रील लाइफ में जुल्म के खिलाफ प्र्तिशोध लेने वाला रियल लाइफ में ऐसे लोगो की मजाक बना रहा है. शर्म नही आती ऐसे बेशर्मो को, यह जमीन भी ऐसे दौगालो के बोझ को क्यों सह रही है? यह फट क्यों नही जाती जिसमे परेश रावल जैसे लोग समां जाए? इससे पहले वसीम ने परेश रावल की फिल्म ‘फिर भी दिल है हिन्दुस्तातनी’ में उनके किरदार के बारे में बताते हुए कहा की इसमें वो जुल्म के खिलाफ लड़ने वाले एक शख्स का किरदार निभा रहे है.

और पढ़े -   किरण रिजीजू के रोहिंग्या मुस्लिम को वापिस म्यांमार भेजने के बयान पर भड़के डॉ ज़फरुल इस्लाम

वसीम आगे लिखते है की जो शख्स फिल्मो में हीरो और विलन, दोनों का किरदार कर रहा है वो असल जिन्दगी में केवल और केवल विलन का किरदार ही निभा रहा है. वसीम पूछते है की क्या बीजेपी ज्वाइन करने से पहले यह शर्त रखी जाती है की मानवता का त्याग करना होगा. या फिर आपके आसपास घट रही अमानवीय घटनाओं का विरोध नही करना होगा? एक बात तो साफ है की शबाना का मजाक बनाकर परेश ने यह सन्देश जरुर दिया है की समाज चाहे इन लाशो पर खूब तडपे लेकिन वो और उनकी पार्टी इन लाशो पर ठहाका लगाना ही जानती है.

और पढ़े -   ममता का आदेश , मोहर्रम के दिन नही होगा माँ दुर्गा की मूर्ति का विसर्जन

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE