केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने वाहन कंपनियों दो शब्दों में चेतवानी देते हुए कहा कि वे वै​कल्पिक र्इंधन अपनाना शुरू कर दे अन्यथा परिणाम भुगतने के लिए भी तैयार रहें. भ

गडकरी ने सियाम के सालाना सम्मेलन में कहा, ”हमें वैकल्पिक ईंधन की ओर बढ़ना चाहिए. मैं यह करने जा रहा हूं, भले ही आपको यह पसंद हो या नहीं. मैं आपसे कहूंगा भी नहीं. मैं इन्हें (वाहनों को) ध्वस्त कर दूंगा. प्रदूषण के लिए, आयात के लिए मेरे विचार पूरी तरह स्पष्ट हैं. सरकार की आयात घटाने और प्रदूषण पर काबू पाने की स्पष्ट नीति है.”

और पढ़े -   बड़ी खबर: 600 करोड़ में बिका एनडीटीवी, बीजेपी नेता अजय सिंह होंगे नए मालिक

उन्होंने कहा, इलेक्ट्रिक वाहनों पर एक कैबिनेट नोट तैयार है, जिसमें चार्जिंग स्टेशनों के मुद्दे पर ध्यान दिया गया है. जो सरकार का समर्थन कर रहे हैं वे फायदे में रहेंगे और जो ‘नोट छापने में लगे हैं’ उन्हें परेशानी होगी.

उन्होंने कहा कि कंपनियां बाद में यह कहते हुए सरकार के पास नहीं आएं कि उनके पास ऐसे वाहनों का भंडार भरा पड़ा है जो वैक​ल्पिक ईंधन पर नहीं चलते हैं. केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘मैं आप कार निर्माताओं से विनम्र आग्रह करता हूं कि शोध करें.

और पढ़े -   गौरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा के शिकार लोगो मुआवजा दे राज्य सरकारे- सुप्रीम कोर्ट

गडकरी ने कहा, पहले जब मैंने आपको इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए कहा तो आपने कहा कि बैटरी महंगी है. अब बैटरियों की लागत 40 प्रतिशत कम हो गई है. अगर आप अब शुरू करते हैं तो बड़े पैमाने पर उत्पादन पर लागत और कम होगी. शुरुआती दिक्कतें तो हर कहीं होती हैं.’


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE