निलंबन के बाद वारिस पठान ने सदन के बाहर कहा, मैं जय हिंद कहने को तैयार हूं। मुझे अपने देश से प्‍यार है।

भारत माता की जय न बोलने पर एमआईएम विधायक वारिस पठान को बुधवार को महाराष्‍ट्र विधानसभा से निलंबित कर दिया गया। इस मामले में विपक्षी दल कांग्रेस और एनसीपी ने सत्‍ता पक्ष भाजपा व शिवसेना का साथ दिया। सदन में गृह राज्‍य मंत्री रंजीत पाटिल की ओर से लाए गए प्रस्‍ताव को दोनों विपक्षी दलों ने समर्थन दिया। हालांकि केबिनेट मंत्री और भाजपा नेता एकनाथ खड़से ने कहा कि अगर पठान माफी मांग लेते हैं तो उन पर कार्रवाई नहीं होगी। लेकिन कांग्रेस विधायकों ने इसका विरोध किया और पठान को निलंबित करने की मांग की। एनसीपी, शिवसेना और भाजपा विधायकों ने भी इसका समर्थन किया।

कांग्रेस नेता राधाकृष्‍ण विखे पाटिल ने कहा, ‘यदि कोई देश की भावनाओं से खिलवाड़ करता है, तो इसे बर्खास्‍त नहीं किया जा सकता। देश का अपमान करनेे पर मैं सदस्‍य के खिलाफ कार्रवाई की मांग करता हूं।’ शिवसेना विधायक गुलाबराव पाटिल ने कहा,’इस देश में रहना है कुत्‍तों तो वंदे मातरम बोलना होगा।’ राज्‍यपाल के अभिभाषण पर बहस के दौरान भाजपा सदस्‍यों ने एमआर्इएम के विधायकों वारिस पठान और इम्तियाज जलील की सीटों के पास जाकर भारत माता की जय के नारे लगाए।

और पढ़े -   एजेंडा तो हिंदू राष्ट्र का और राष्ट्रपति दलित, मनुस्मृति राज में दलित प्रेसिडेंट से कोई फर्क नही पड़ेंगा

निलंबन के बाद वारिस पठान ने सदन के बाहर कहा,’मैं जय हिंद कहने को तैयार हूं। मुझे अपने देश से प्‍यार है। कोई मुझसे जबरदस्‍ती कुछ कहने को बोले तो मुझे इस बात से आपत्ति है। भारत माता की जय कहने की जबरदस्‍ती से मुझे आपत्ति है। मैंने कुछ गलत नहीं किया। मुझे कम से कम सदन में बात रखने का मौका तो दिया जाना चाहिए था।’ (Jansatta)

और पढ़े -   यूपी पुलिस पर रेप पीडिता का चौंकाने वाला आरोप, रेप आरोपियों को पकड़ने के बदले कर डाली सेक्स की मांग

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE