सूत्रों का कहना है कि इस अभियान के तहत वे उन हिंदू लड़कों को सुरक्षा देंगे जो मुस्‍ल‍िम या ईसाई लड़कियों से शादी करेंगे।

विश्‍व हिंदू परिषद जल्‍द ही हिंदुत्‍ववादी एजेंडे के तहत ‘घर वापसी’ और ‘बेटी बचाओ, बहू लाओ’ जैसे अभियानों में तेजी ला सकता है। इलाहाबाद में पांच फरवरी को होने वाले संत सम्‍मेलन में साधुओं और विहिप नेताओं के बीच इस प्रस्‍ताव पर चर्चा होगी।

विश्‍व हिंदू परिषद के मार्गदर्शक मंडल के सदस्‍य, सीनियर विहिप नेता और साधु राम विलास वेदांती मीटिंग का एजेंडा तय करने के लिए मुलाकात करने वाले हैं। संपर्क करने पर विहिप के काशी प्रांत के सचिव मुकेश ने कहा कि राम मंदिर, गंगा रक्षा, सामाजिक समरसता, आबादी में असंतुलन, घर वापसी और बेटी बचाओ, बहू लाओ कैंपेन इस मीटिंग का एजेंडा होगा।

हालांकि, मीटिंग की तैयारियों की जिम्‍मेदारी संभाल रहे मुकेश ने विस्‍तार से ‘बेटी बचाओ, बहू लाओ’ कैंपेन के बारे में कुछ भी बताने से इनकार कर दिया। सूत्रों का कहना है कि इस अभियान के तहत वे उन हिंदू लड़कों को सुरक्षा देंगे जो मुस्‍ल‍िम या ईसाई लड़कियों से शादी करेंगे। वे हिंदू परिवारों के बीच जाकर उनकी लड़की को किसी मुस्‍ल‍िम या ईसाई से प्रेम करने या शादी करने से रोकने के लिए जागरुकता अभियान चलाएंगे।

बता दें कि ‘ल‍व जिहाद’ का जवाब देने के लिए विहिप से जुड़े संगठन बजरंग दल ने बीते साल यूपी के कुछ हिस्‍सों में अभियान चलाया था। विश्‍व हिंदू परिषद इस बैठक में प्रस्‍ताव पास करके केंद्र सरकार से मांग कर सकता है कि राम मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाया जाए। एक विहिप नेता ने बताया कि आबादी असंतुलन पर चिंता जताते हुए साधु यूनिफॉर्म सिविल कोड लागू किए जाने की मांग पर चर्चा करेंगे। साभार: जनसत्ता


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें