नई दिल्ली | पिछले कुछ सालो में कई ऐसे स्वयंभू संतो और बाबाओ की असलियत सामने आई है जिनको करोडो लोग अपना भगवान् समझते थे. ये लोग, लोगो की भावानो से खेलकर अपना धंधा चमकाते थे. इनमे से ज्यादातर संत बाबा विलसिता का जीवन जी रहे थे. यही नही आसाराम और गुरमीत राम रहीम जैसे स्वय्मभु संत लडकियों का यौन शोषण करने से भी परहेज नही कर रहे थे. लेकिन असलियत सामने जरुर आती है चाहे देर से ही आये.

इसलिए आसाराम और गुरमीत राम रहीम आज जेल की सलाखों के पीछे है. दोनों पर ही लडकियों का यौन शोषण करने का आरोप है. जबकि राम रहीम पर तो दो सधियो के साथ बलात्कार करने का दोष भी सिद्ध हो चूका है. इन सबके अलावा एक ऐसी ही स्वयंभू संत है राधे माँ. राधे माँ के भी भारत में करोडो फोलोवर है. अब उनके बारे में भी कुछ चौकाने वाले खुलासे हो रहे है जिस पर पंजाब हाई कोर्ट ने संज्ञान भी लिया है.

विश्व हिन्दू परिषद् के पूर्व सदस्य ने राधे माँ पर आरोप लगाया है की वह उनको शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए उकसाती थी. इसके अलावा मना करने पर उसे अपशब्द भी बोलती थी. विश्व हिन्दू परिषद् के पूर्व सदस्य सुरेन्द्र मित्तल ने बताया की करीब 2 साल पहले राधे माँ ने उसे शारीरिक सम्बन्ध बनाने के लिए उकसाया. जब उन्होंने इसके लिए मना किया तो राधे माँ ने उसे अपशब्द भी कहे.

फ़िलहाल सुरेन्द्र मित्तल इस मामले को लेकर हाई कोर्ट में याचिका डालने पर विचार कर रहे है. उन्होंने कहा की मैं चाहता हूँ की हाई कोर्ट इस मामले का संज्ञान लेकर उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही करे. इसके अलावा मैं उसके खिलाफ मामला दर्ज करने की तैयारी कर रहा हूँ. सुरेन्द्र ने बताया की राधे माँ की तरफ से उसे धमकी भी मिल रही है लेकिन मैं ऐसे लोगो को रौशनी में लेकर आऊंगा जो झूठी पहचान के साथ बाबा या संत बने हुए है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE