तिरुवंतपुरम | एक तरह जहाँ पुरे देश में हिन्दू मुस्लिम के बीच एक खाई बनाने की कोशिश की जा रही है वही कुछ लोग इस खाई को पाटने का काम कर रहे है. देश के किसी न किसी कोने में ऐसे ऐसे उदहारण मिलते रहते है जो सोहार्द की मिसाल बन जाते है. अभी हाल ही में मुजफ्फरनगर में कुछ हिन्दू कैदियों ने मुस्लिम कैदियों के साथ रोजा रख , भाईचारे की मिसाल पेश की थी.

और पढ़े -   साध्वी रेप मामले में डेरा प्रमुख राम रहीम पर 25 को आएगा फैसला, डेरा प्रेमियों ने इकठ्ठा करने शुरू किये धारधार हथियार, पूरा हरियाणा छावनी में तब्दील

कुछ ऐसी ही मिसाल केरल में भी पेश की गयी. यहाँ के एक मंदिर ने इफ्तार पार्टी का आयोजन कर सबको चौका दिया. यही नही जब मुस्लिम समुदाय के लोगो को यह पता चला की मंदिर में इफ्तार पार्टी का आयोजन हो रहा है तो वो भी बड़ी संख्या में इस पार्टी में हिस्सा लेने पहुंचे. खबरो के अनुसार मंदिर की इफ्तार पार्टी में करीब 400 लोग शामिल हुए जिसमे से 100 लोग दुसरे समुदाय से थे.

और पढ़े -   मुस्लिम माने की उनके पूर्वज है हिन्दू , कश्मीर से कन्याकुमारी तक सबका डीएनए एक- सुब्रमण्यम स्वामी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार केरल के लक्ष्मी नरसिम्हा मुर्थी विष्णु मंदिर में इफ्तार पार्टी का आयोजन किया गया. दरअसल इस मंदिर में 29 मई से सुधार का कार्य चल रहा है. यह कार्य 4 जुलाई तक चलेगा. बड़ी बात यह है की मंदिर के सुधार के लिए करीब 300 मुस्लिम परिवारों ने भी फंड दिया है. इसी भाईचारे और एकजुटता को बनाए रखने के लिए मंदिर प्रशासन ने इफ्तार पार्टी के आयोजन का कार्यक्रम रखा.

और पढ़े -   वाराणसी के बीएचयु अस्पताल में मरीज को ऑक्सीजन की जगह दी दूसरी गैस, हुई मौत, ऑक्सीजन सप्लाई करने का ठेका बीजेपी विधायक की कंपनी को

मंदिर प्रशासन की और से इफ्तार पार्टी के बारे में कहा गया की हम अपने धर्म को मानने के लिए स्वतंत्र है लेकिन हमें दूसरो के धर्म का भी सम्मान करना चाहिए. इसलिए मंदिर ने इफ्तार पार्टी के आयोजन का फैसला किया. इस पार्टी में सभी को शाकाहार भोजन परोसा गया. इसके अलावा केरल की एक स्पेशल डिश भी परोसी गयी. केरल में दोनों धर्मो के लोगो की यह एकजुटता पुरे देश के लिए मिसाल बन गयी है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE