09_03_2016-muzaffarnagarriots9

अलीगढ | उत्तर प्रदेश के अलीगढ में कल महिलाओ के साथ हुए छेड़छाड़ ने साम्प्रदायिक बवाल का रूप ले लिया. दोनों पक्षों के बीच में जमकर पथराव हुआ जिससे आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए. इसमें तीन महिलाये भी शामिल है. फ़िलहाल शहर की स्थिति नियंत्रण में है.

मिली जानकारी के अनुसार अलीगढ के बाबरी मंडी इलाके में स्थित दाऊ जी मंदिर में कुछ महिलाये गोवर्धन पूजा करने जा रही थी. रास्ते में महिलाओ के साथ एक विशेष सम्प्रदाय के लडको ने छेड़छाड़ शुरू कर दी. महिलाओ के साथ चल रहे बच्चो और युवको ने जब उनका विरोध करना शुरू किया तो उत्पातियो ने उनके साथ गाली गलोच और मारपीट शुरू कर दी.

और पढ़े -   पाक की जीत पर पटाखे फोड़ने वालो को पाकिस्तान चले जाना चाहिए: अल्पसंख्यक आयोग प्रमुख

इसी बीच किसी हिन्दू लड़के ने एक पटाखा फोड़ दिया जिससे माहौल और गरमा गया. दोनों पक्षों की और से भीड़ जमा हो गयी और दोनों पक्षों में जमकर पथराव शुरू हो गया. बवाल की सूचना मिलते ही एसओ सासनी गेट विनोद यादव मौके पर पहुंचे. एसओ की मौजूदगी में ही एक पक्ष ने दुसरे पक्ष पर पथराव जारी रखा जिससे दुसरे पक्ष ने एसओ की गाडी का घेराव किया.

और पढ़े -   आरएसएस के स्वदेशी जागरण मंच ने जीएसटी का किया विरोध कहा, इससे लघु उधोग हो जायेगा चोपट

इसी बीच एक पक्ष ने पुलिस पर भी पथराव और फायरिंग करनी शुरू कर दी. अलीगढ की तंग गलियों में करीब एक घंटे चली फायरिंग में 100 राउंड फायर किये गए. स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए पुलिस ने जवाबी फायरिंग की. आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज किया. इस बवाल में करीब आधा दर्जन लोग घायल हो गए. घायलों में तीन महिलाये भी शामिल है. स्थिति बिगडती देख पुलिस ने रबर बुलेट भी चलायी. फ़िलहाल शहर की स्थिति नियंत्रण में है.

और पढ़े -   भारत में क़तर रियाल को बदलने में किसी भी प्रकार की रोक नहीं: आरबीआई

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE