पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने बैंकों से 9000 करोड़ कर्ज लेकर देश से भागने वाले कारोबारी विजय माल्या का बचाव किया है. उन्होंने शनिवार को कहा कि माल्या देश से भागे नहीं हैं. यही नहीं, उन्होंने मशहूर उद्योगपति को कर्नाटक की मिट्टी का बेटा भी बताया.

देवगौड़ा ने कहा, ‘माल्या कर्नाटक की मिट्टी के बेटे हैं. वह भाग नहीं रहे हैं. इन दिनों सभी एयरलाइंस को घाटा हो रहा है और माल्या जैसे इंटरनेशनल बिजनसमैन को टारगेट करने की कोई वजह समझ में नहीं आती.’ जनता दल सेक्युलर के प्रमुख ने आगे सवाल किया कि कर्ज अदायगी में चूक करने वाले अन्य बड़े कर्जदारों से धन क्यों नहीं वसूला जा रहा है?

पूर्व पीएम ने कहा, ’60 अन्य प्रमुख लोग हैं, जिन्होंने कर्ज अदायगी में चूक की है और केवल माल्या का मामला मीडिया में सुर्खियां बटोर रहा है. क्यों? मीडिया माल्या के बारे में इसलिए चिंतित है, क्योंकि वह राज्यसभा सदस्य हैं. वरना किसे उनकी और उनके मामले की चिंता होती.’ हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि माल्या के खिलाफ कार्रवाई करना सरकार पर है.

‘देश का सपूत है माल्या
‘ गौरतलब है कि जनता दल सेक्युलर के समर्थन से ही विजय माल्या 2002 और 2010 में कर्नाटक से दो कार्यकाल के लिए राज्यसभा सदस्य बने. यह पूछे जाने पर कि क्या यह कहना सही है कि माल्या देश छोड़कर भाग गया, गौड़ा ने कहा, ‘उन्होंने जो ट्वीट पोस्ट किए हैं उनके अनुसार, वह समस्या सुलझाने के लिए सरकार और न्यायपालिका की विभिन्न शाखाओं के साथ सहयोग का इच्छुक है. माल्या देश का सपूत है, वह देश छोड़कर नहीं भाग रहे हैं.

माल्या का समर्थन नहीं
हालांकि, यह पूछे जाने पर कि क्या वह एक तरह से माल्या का समर्थन कर रहे हैं, देवगौड़ा ने कहा, ‘मैं समर्थन क्यों करूं और मैं कैसे समर्थन कर सकता हूं, जब केंद्र सरकार ने माल्या के खिलाफ कार्रवाई के लिए कदम उठाए हैं.

दूसरी ओर, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक माल्या फिलहाल लंदन में हैं. बीते दिनों उन्होंने ट्वीट करके मीडिया को लताड़ा भी था और कहा कि वह इंटरनेशनल बिजनसमैन हैं, भगोड़े नहीं. (aajtak)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें