जम्‍मू-कश्‍मीर में अमरनाथ तीर्थयात्रा पर आतंकी हमले की कड़ी निंदा करते हुए उपराष्‍ट्रपति हामिद अंसारी ने कहा कि ऐसे जघन्‍य कार्य किसी भी सूरत में सहन नहीं किए जा सकते और ऐसे मानवता विरोधी अपराधों में लिप्त या उनमें मदद देने वालों को दंडित किया जाना चाहिए ।

उन्होंने कहा कि हिंसा के ऐसे जघन्‍य कार्य किसी भी सूरत में सहन नहीं किए जा सकते और ऐसे मानवता विरोधी अपराधों में लिप्त या उनमें मदद देने वालों या उनका षड्यंत्र रचने वालों को दंडित किया जाना चाहिए।

और पढ़े -   मोदी सरकार रोहिंग्या मुसलमानों के नरसंहार का मुद्दा सयुंक्त राष्ट्र में उठाए: अजमेर दरगाह दीवान

उपराष्ट्रपति ने अपने संदेश में कहा, “जम्‍मू-कश्‍मीर में अमरनाथ तीर्थयात्रा पर आतंकी हमले की खबर सुन कर मुझे गहरा आघात पहुंचा है, जिसमें तीर्थ यात्रियों की जानें गई हैं और कई लोग घायल हुए हैं। हिंसा की ऐसी निरर्थक घटनाओं का कोई औचित्‍य नहीं है और ऐसी वारदातों का षड्यंत्र रचने वालों या उनमें मदद पहुंचाने वालों को, इस मानवता विरोधी अपराध के लिए दंडित किया जाना चाहिए।’’

और पढ़े -   पेट्रोल-डीजल के बेलगाम होते दाम पर केन्द्रीय मंत्री का विवादित बयान कहा, तेल खरीदने वाला नही मर रहा भूखा, सोच समझकर लिया फैसला

अंसारी ने कहा कि भारत की आत्‍मा पर किए जाने वाले ऐसे हमलों का सामना करने के लिए हम एकजुट हैं। मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति गहन संवेदना व्‍यक्‍त करता हूं। मैं पूरे राष्‍ट्र के साथ दुआ करता हूं कि दिवंगत आत्माओं को शांति मिले और घायल लोग शीघ्र स्‍वस्‍थ हों।’


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE