मुस्लिम महिलाओं से सहानभूति का कोई भी मौका ‘मिस’ ना करने वाली भाजपा सरकार ने उज्मा को वापस वतन बुलाकर सरहनीय काम किया है जिसका सीधा श्रेय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को जाता है. एक मुद्दत तक सितम झेलने वाली उज्मा ने वापस भारत आकर बताया की पाकिस्तान मौत का कुआं है जहाँ जो एक बार फंस गया उसे वहीँ घुट घुट कर जीना होगा हालाँकि भारत से पाकिस्तान बियाही जाने वाली सभी लड़कियों की किस्मत सानिया मिर्ज़ा जैसी नही होती.

मीडिया की ख़बरों के अनुसार धोखाधड़ी की शिकार उज़मा ने भारत पहुंचकर बेशक राहत की सांस ली हो लेकिन उनके पड़ोसियों के मुताबिक उज्मा की एक और ही सच्चाई पता चली है. ऐसा पहली बार नही हुआ है की उसे पहली बार धोखा मिला है, इस महिला की किस्मत में इससे पहले भी पांच धोखे थे, पाकिस्तानी ताहिर के धोखे को मिलाकर यह छठा मामला है.

और पढ़े -   कभी तीन तलाक के बचाव में दलील देने वाला मुस्लिम पर्सनल बोर्ड, सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर हुआ दो फाड़

दैनिक जागरण में प्राकाशित खबर के अनुसार उत्तर पूर्वी दिल्ली के चौहान बांगर इलाके की इंद्रा गली नंबर-13 में रहने वाली उज्मा के बारे में पड़ोसियों ने बताया कि वह काफी मिलनसार है। वह अच्छी ज़िन्दगी जीना चाहती है और उसे विदेश घूमने का भी शौक है।

जिस कारण वो उन लोगो के सम्पर्क में आई जिन्होंने उसे सपनो की दुनिया में घुमाया, सब्जबाग दिखाए और लव मैरिज कर ली और जब मन भर गया तो ज़िन्दगी ने इस्तेमाल किये गये टिश्यू पेपर की तरह निकाल फेंका. नाम नहीं बताने की शर्त पर उज्मा के एक नजदीकी ने जानकारी दी कि पाकिस्तान में ताहिर से मिले धोखे से पहले उसकी पांच बार शादी हो चुकी है। इसमें एक पूर्व विधायक के बेटे से भी शादी होने की बात मोहल्ले के लोगों में चर्चा का विषय बनी हुई है, जिनका कहना है कि किसी विवाद के चलते पूर्व विधायक ने उज्मा से पीछा छुड़ाया। हालांकि इस बारे में पूर्व विधायक का कहना है कि इस तरह के आरोप पूरी तरह से झूठे हैं।

और पढ़े -   कपिल सिब्बल को गिरगिट बताने वाले ट्वीट का परेश रावल ने किया समर्थन, लोगो ने याद दिलाये मोदी के बयान

परिचितों का कहना है कि पहली शादी से उज्मा को कोई संतान नहीं है, जबकि दूसरी शादी पंजाबी बाग में एक गैर मुस्लिम परिवार में हुई, जिससे उसे एक बेटी भी है। वहीं तीसरे पति से उज्मा को दो बेटियां हैं। उज्मा के बारे में यह भी कहा जा रहा है कि उसके पिता नीदरलैंड में रहा करते थे, जिन्होंने पहली शादी करने के बाद उज्मा का साथ छोड़ दिया था। हालांकि चौथे और पांचवे पति के बारे में इलाके के लोगों को कुछ खास जानकारी नहीं है क्योंकि कई वर्षों से उज्मा इलाके में नहीं रह रही है। अब छठी शादी ताहिर से की, जिस पर खुद उत्पीड़न के आरोप उज्मा ने लगाए हैं।

और पढ़े -   देश के मौजूदा हालात नाजी जर्मनी से भी बदतर, चल रहा संवैधानिक हॉलोकॉस्ट: चर्च

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE