nawaz-sharif-unga-afp_650x400_81474481576

संयुक्त राष्ट्र की आम सभा में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा लगाए गए आरोपों पर भारत ने पाकिस्तान को लताड़ लगाते हुए “आतंकवादी राष्ट्र” और “युद्ध अपराध” में लिप्त देश बताया.

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थाई मिशन के फर्स्ट सेक्रेटरी ईनाम गंभीर ने शरीफ के भाषण के बाद “राइट ऑफ रिप्लाई” का प्रयोग करते हुए कहा, “मानवाधिकारों का सबसे निकृष्ट हनन आतंकवाद है और जब इसका इसका राष्ट्र नीति की तरह इस्तेमाल किया जाना युद्ध अपराध है. मेरा देश और हमारे पड़ोसी देश आज जो झेल रहे हैं वो पाकिस्तानी की आतंकवाद को प्रायोजित करने की लंबी रणनीति का परिणाम है, जो अब हमारे इलाके से बाहर भी फैल गया है.

गंभीर ने आगे कहा कि संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित आतंकवादी पाकिस्तान में खुलेआम घूमते हैं और सरकार की मदद से काम करते हैं. उन्होंने स्पस्ट रूप से कहा कि भारत पाकिस्तान को “आतंकवादी राष्ट्र” के तौर पर देखता है जो आतंकियों की मदद के लिए उन तक अरबों डॉलर पहुंचाने की व्यवस्था करता है.

गंभीर ने शरीफ के संबोधन का जवाब देते हुए कहा कि “पाकिस्तान कट्टरवादी गुटों को समर्थन देता है, अल्पसंख्यकों और महिलाओं के बुनियादी मानवाधिकारों का हनन करता है. गंभीर ने अमेरिका के हुए वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर 2001 में हुए आतंकी हमले का जिक्र करते हुए कहा, “हमें नहीं भूलना चाहिए कि खौफनाक आतंकी हमले 9/11 के तार भी पाकिस्तान के एबोटाबाद से जुड़े थे जहां अल कायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन रहता था और अमरेकी सैनिकों के हाथों मारा गया था.”


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें