note-759

कश्मीर | प्रधानमंत्री मोदी ने जब 8 नवम्बर को नोट बंदी की घोषणा की तो उन्होंने कहा था नोट बंदी से आतंकवादियों की कमर टूट जायेगी क्योंकि उनको फंडिंग होना बंद हो जायेगी. आज नोट बंदी को 14 दिन हो चुके है. अभी भी देश बिना कैश के दौड़ रहा है. केंद्र सरकार और बीजेपी लगातार कह रही है की इस फैसले से थोड़ी मुश्किलें होगी लेकिन आतंकवाद और फर्जी नोटों को बंद करने के लिए यह कदम जरुरी हो गया था.

और पढ़े -   केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का इफ्तार पार्टी को लेकर विवादित बयान कहा, नौटंकी करने की क्या जरुरत

आज घाटी से जो खबर आई है वो बीजेपी और केंद्र सरकार की आँखे खोलने वाली है. नोट बंदी से आतंकवादियों को फंडिंग बंद होने की बात करने वाले लोगो के लिए घाटी से यह खबर चौंका सकती है. मिली जानकारी के अनुसार जम्मू कश्मीर के बांदीपुरा में आज सुरक्षाबलो और आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ हुई. काफी देर चली इस मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गए.

फ़िलहाल बांदीपुरा में मुठभेड़ खत्म हो चुकी है लेकिन सुरक्षाबल अभी भी तलाशी अभियान चलाये हुए है. सुरक्षाबलो को मिली जानकारी के अनुसार , इलाके में अभी भी दो आतंकियों के छुपे होने की संभावना है. सबसे चौकाने वाली खबर यह है की मारे गए आतंकियों के पास से भारी मात्र में गोला बारूद के अलावा, 2000 के नए नोट भी बरामद हुए है.

और पढ़े -   यूपी पुलिस पर रेप पीडिता का चौंकाने वाला आरोप, रेप आरोपियों को पकड़ने के बदले कर डाली सेक्स की मांग

नोट बंदी के बाद देश भर के लोगो को नए नोट मिलने में परेशानी हो रही है , ऐसे में सवाल उठाना लाजिमी है की इन आतंकियों के पास नए नोट कहाँ से आये. उधर आरएस पूरा सेक्टर में भी मुठभेड़ की खबर है. यहाँ मुठभेड़ में एक पाकिस्तानी घुसपैठिये के मारे जाने की खबर है. सेना ने बताया की उनको आरएस पूरा में एक पाकिस्तानी घुसपैठिया के होने की खबर मिली. हमने उसे चेतावनी दी लेकिन उसने अनसुनी कर दी. इसके बाद हमारी तरफ से हुई गोलीबारी में घुसपैठिया मारा गया.

और पढ़े -   पीएम मोदी को लगा बड़ा झटका - 'मेक इन इंडिया' में बनी 'असॉल्ट राइफल' को सेना ने किया रिजेक्ट

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE