criminals-ani-1

दिल्ली | आज नोट बंदी का 16वा दिन है. पिछले दिनों की तरह आज भी लोग करेंसी के लिए बैंक और एटीएम की कतारों में खड़े रहे. कुछ की मुराद पूरी हुई और कुछ रोज की तरह खाली हाथ लौट गए. एक तरफ लोग नयी करेंसी एक लिए तरस रहे है उधर कुछ लोगो को भर भर के नयी करेंसी मिल रही है. खबर मिली है की दिल्ली में दो संदिग्ध 27 लाख रूपए की नयी करेंसी के साथ पकडे गए है.

एएनआई की खबर के अनुसार , क्राइम ब्रांच ने दिल्ली के निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से दो लोगो को गिरफ्तार किया है. इन लोगो के पास से 27 लाख रूपए की नयी करेंसी बरामद हुई है. यह करेंसी 2000 के नए नोट में थी. ये लोग इन पैसे को कहाँ से लाये थे और इनको कहाँ लेकर जाया जा रहा था, इन सवालो के जवाब क्राइम ब्रांच ढूँढने की कोशिश कर रही है.

दोनों लोगो से पूछताछ की जा रही है. क्राइम ब्रांच के साथ इनकम टैक्स और ख़ुफ़िया विभाग के अधिकारी भी मौजूद है. सभी अधिकारी संयुक्त रूप से पूछताछ कर रहे है. इन पैसो की मौजूदगी यह साबित करने के लिए काफी है की देश में कालाबाजारी फिर से शुरू हो चुकी है. कालाधन रखने वाले लोगो ने अपने जुगाड़ लागाने शुरू कर दिए है.

इनकम टैक्स विभाग भी अब चौकन्ना हो गया है. क्राइम ब्रांच से मिली जानकारी के मुताबिक पीतमपुरा के रहने वाले अजीत पाल और राजेंद्र सिंह मुंबई से 27 लाख रूपए लेकर दिल्ली पहुंचे थे. सूत्रों से मिले इनपुट के आधार पर इन लोगो को निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया गया. सबसे बड़ा सवाल यह है की जब बैंक ने एक हफ्ते में 24 हजार रूपए निकालने की सीमा रखी हुई है तो इतना सारा कैश कैसे एक जगह पर इकठ्ठा हुआ?


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें