vaj

मशहूर कवि अशोक वाजपेयी ने इशारो ही इशारो में केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि भारत में उन लोगों के नाम-ओ-निशान मिटाने की कोशिश की जा रही है, जिन्होंने देश निर्माण और विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है और जो देश के वास्तुकार थे.

रजा फाउंडेशन की ओर से ‘अल्ताफ हुसैन हाली : एक कवि और एक सुधारक’ विषय पर आयोजित सेमीनार के उद्घाटन के बाद उन्होंने ये विचार व्यक्त किये.

रजा फाउंडेशन और हाली पानीपती ट्रस्ट के इस सेमीनार में बताया गया कि हाली ऐसे कवि थे जिन्होंने उर्दू शायरी का दायरा बड़ा किया और महिलाओं की शिक्षा और उनके अधिकारों पर ध्यान दिया.

साथ ही सेमीनार में इस बात पर भी चिंता जताई गई कि ख्वाजा अल्ताफ हुसैन हाली जैसे महान कवि, समाज सुधारक और देश के वास्तुकार को हम भूलते जा रहे हैं.

1837 में पैदा हुए हाली ब्रिटिश साम्राज्य के खिलाफ कलम के जरिए बगावत करने वाले प्रसिद्ध शायर थे. उन्होंने अपनी शायरी के जरिए 1857 के जंग में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE