tauqueer-raza

ट्रिपल तलाक का विरोध करना केंद्र की मोदी सरकार को भारी पड़ता दिख रहा हैं. मुस्लिम संगठनों के साथ-साथ अब राजनेताओं ने भी ट्रिपल तलाक के मुद्दें पर केंद्र सरकार के खिलाफ मौर्चा खोल दिया हैं.

ऑल इंडिया इत्तेहादे मिल्लत काउंसिल के अध्यक्ष मौलाना तौकीर रजा ने बरेली में तीन तलाक और समान नागरिक संहिता के मुद्दे पर सपष्ट रूप से कहा कि अगर तुम हमारे मामलों में दखल डोज तो फिर हम भी तुम्हारे मामलों में दखल देंगे.

मौलाना तौकीर ने कहा कि जहाँ एक महिला के पांच पति होते हैं वहां तो महिल को पता भी नहीं होता है कि उसके बच्चे का बाप कौन है. उसको तो बच्चे के बाप का नाम भी पता नहीं होता है. उन्होंने कहा,  तुम्हारे यहां भी तो एक औरत के पांच शौहर होते हैं. ऐसा कई जगह देखा है, लेकिन मैंने इसे कभी गलत नहीं कहा.

मौलाना ने कहा कि तीन तलाक के मामले में अगर आप लोग दखल दोगे तो हम तुम्हारे हर मामले में जोरदार दखल देंगे. उन्होंने समान नागरिक संहिता को लेकर कहा कि इसे लागू करने से समस्याएं बढ़ेंगी.

उन्होंने सवाल उठाते हुए पूछा कि क्या जिनके निकाह हो चुके हैं, उन्हें फेरे लेने होंगे या फिर जिनके फेरे हो चुके हैं, उन्हें निकाह पढऩा पड़ेगा? उन्होंने आगे कहा, ऐसा करके हुकूमत का मकसद दोनों सम्प्रदाय के लोगों को आपस में उलझाना है. तीन तलाक का विवाद भी इसी वजह से खड़ा किया गया है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें
SHARE