bur

राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने तीन तलाक को लेकर शनिवार को सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया हैं. जिसमे आयोग ने तीन तलाक असंवैधानिक बताते हुए इस पर रोक लगाये जाने की मांग की हैं.

हलफनामे में आयोग ने लिखा, ‘ये प्रथाएं- तीन तलाक, निकाह हलाला और बहुविवाह- पर सख्ती से पाबंदी लगनी चाहिए. राष्ट्रीय महिला आयोग इस मुद्दे पर केंद्र सरकार का समर्थन करता है. आयोग ने आगे कहा, ‘आयोग के सामने एकतरफा तलाक की इस प्रथा से पीड़ित महिलाओं के कई मामले सामने आए.

आयोग ने तीन तलाक, निकाह हलाला और बहुविवाह जैसी प्रथाओं को असंवैधानिक बताते हुए कहा कि ये मुस्लिम महिलाओं  के खिलाफ इस्तेमाल होती हैं. साथ ही यह महिलाओं और उनकी संतानों के लिए नुकसानदेह भी है.

गौरतलब रहें कि 7 अक्टूबर को केंद्र सरकार ने भी सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर तीन तलाक और बहुविवाह को असंवैधानिक बताया था.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें