sant

कैराना में कथित रूप से हिन्दुओं के पलायन की जांच करने वाले संतों को जान से मारने की धमकी दी गई हैं. यूपी सरकार द्वारा गठित पांच संतों के पैनल में से तीन संतों को बम से उड़ाने की धमकी दी गई हैं. गुरुवार को मुख्यमंत्री और गवर्नर को रिपोर्ट सोपने के अगले ही दिन यानि शुक्रवार को तीनो संतो को धमकी दी गई हैं.

संतो द्वारा गाजियाबाद पुलिस को दी हैं जिसके आधार पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू की हैं साथ ही संतो की सुरक्षा भी बढाई गयी हैं. धमकी उस वक्त मिली जब संत ये रिपोर्ट लखनऊ में सीएम अखिलेश यादव को सौप कर वापस लौट रहे थे. ट्रेन में यात्रा के दौरान ही उन्हें ये धमकी मिली हैं जिसके बाद जिले के एसएसपी को इस बारे में जानकारी दी गयी.

पुलिस ने संतो की कमिटी में शामिल आचार्य प्रमोद कृष्णन, कल्याण देव को भारी पुलिस सुरक्षा के बीच उनके घर तक पहुचाया गया हैं यही नही उनके घर के बाहर भी पुलिस तैनात की गयी हैं.

गोरतलब रहें कि कैराना में पलायन के मामले की जांच के लिए पांच संत- प्रमोद कृष्णन, स्वामी कल्याण, नरायण गिरि, स्वामी चिन्मयानंद और स्वामी चक्रपाणि की टीम का गठन किया गया था.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें