10000

नोटबंदी के बाद कालाधन को ठिकाने लगाने के लिए लोग कई तरीके अपना रहे हैं. ऐसे में मंगलवार को एक नगालैंड के दिमापुर में एक प्राइवेट चार्टर्ड फ्लाइट से पुराने 500 और 1000 रुपये के नोट में 5.5 करोड़ जब्त किये गये थे. लेकिन जब कारवाई करने का वक्त आया तो ये नोट अचानक गुम हो गये.

दीमापुर एयरपोर्ट पर यह कारवाई सयुंक रूप से जांच एजेंसी और सीआइसएफ के अधिकारीयों ने की थी. इतनी बड़ी राशि बिहार के मुंगेर के निवासी व्यवसायी ए सिंह की बताई जा रही थी. ए सिंह एक रात पहले ही दिल्ली से हिसार आया था तथा अगली सुबह हवाई जहाज से नागालैंड रवाना हो गया था.

और पढ़े -   आरटीआई में हुआ खुलासा: बीजेपी शासित राज्यों से चोरी हुई हजारों ईवीएम

इंटेलिजेंस ब्यूरो की ओर से मिली खुफिया जानकारी के आधार पर दिमापुर एयरपोर्ट पर सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्यॉरिटी फोर्स (सीआईएसएफ) के जवान ने यह नकदी जब्त की थी. पैसे जब्त किए जाने के बाद आगे की कार्रवाई के लिए स्थानीय इनकम टैक्स स्टाफ को बुलाया गया.

लेकिन अब यह कैश गायब हैं. इनकम टैक्स ऑफिसर का कहना है कि यह पैसा सीआईएसएफ के पास था. सीआईएसएफ के अधिकारी पहले ही अपना पल्ला झाड़ चुके हैं.

और पढ़े -   जिनके कार्यालयों पर कभी तिरंगा नही फ़हराया गया वो हमसे देशभक्ति का सुबूत मांग रहे है- दरगाह-ए-आला-हज़रत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE