jay

बैंक बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB) के प्रबंध निदेशक और CEO पीएस जयकुमार ने कहा कि अर्थव्यवस्था में सुधार का बड़ा दायित्व सरकार का है, न कि रिजर्व बैंक का.

जयकुमार इंडो अमरीकन चैंबर ऑफ कॉमर्स के वार्षिक सम्मेलन के संबोधन के दौरान उन्होंने कहा कि सरकार को वेंडरों को सेवाओं के लिए वक्त पर भुगतान करना होगा, परियोजनाओं का निष्पादन सुनिश्चित करना होगा और प्रवर्तन प्रक्रिया को उन्नत करते हुए कानूनी प्रणाली में सुधार लाना होगा.

और पढ़े -   बदले अठावले के सुर: पहले कहा था - गौमांस खाना सबका अधिकार, अब बोले - नहीं खाना चाहिए

उन्होंने कहा कि भारतीय रिवर्ज बैंक के गवर्नर समस्याओं का समाधान करेंगे यह अपेक्षा सही नहीं है. मेंरी राय में सुधार का बहुत बड़ा दायित्व सरकार पर भी है. जयकुमार ने शिकायत की कि देश में सबसे बड़ी वादी तो सरकार है और अधिकतर मामले बढ़ते रहते हैं.

उन्होंने कहा कि सरकार को ऋण वसूली न्यायाधिकरणों जैसे आस्ति समाधान मंचों के उन्नयन पर ध्यान देने की आवश्यकता है और उसे दिवालिया कानून के कार्यान्वयन पर यथाशीघ्र ध्यान देना चाहिए. इसके अतिरिक्त बैंकिंग प्रणाली के लिए परियोजनाओं में देरी सबसे ज्यादा दर्द वाले बिंदु हैं

और पढ़े -   नोटबंदी ने निगली 15 लाख लोगों की नौकरी, 60 लाख लोगों को किया रोटी से मोहताज

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE