born

पश्चिम बंगाल सीआईडी ने बुधवार को बच्चों की तस्करी करने वाले अंतरराष्ट्रीय रैकेट में भाजपा के एक स्थानीय नेता डॉक्टर दिलीप घोष की गिरफ़्तार किया हैं. साथ ही सीआईडी ने दो और डॉक्टरों को भी गिरफ्तार किया है.इसके अलावा सीआईडी को दक्षिण 24 परगना के फालता में एक झाड़ी से तीन बच्चें भी मिले हैं. जिनकी तस्करी की जानी थी.

याद रहें कि पश्चिम बंगाल सीआईडी ने 21 नवंबर को राज्य में नवजात बच्चों के एक अंतरराष्ट्रीय रैकेट का पर्दाफ़ाश किया था.  जिसमें सामाजिक कार्यकर्ता, डॉक्टर, वकील, कारोबारी आदि शामिल थे. लेकिन अब भाजपा नेता की गिरफ्तारी के बाद इसमें और हाई प्रोफाइल नाम सामने आ सकते हैं.

और पढ़े -   एनडीटीवी न बिका है न बिकेगा, 1 घंटे चलाएंगे, लेकिन बेचेंगे नहीं: प्रणव राय

सीआईडी के एक अधिकारी ने बताया कि दिलीप घोष और नित्यानंद बिस्वास को कल रात सीबीआई के कर्मियों ने रैकेट में कथित तौर पर शामिल होने पर गिरफ्तार कर लिया. घोष सरकारी आरजी कार मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में पहले काम कर चुका है. उन्होंने कहा कि घोष एवं बिस्वास ने बच्चों की तस्करी के रैकेट में अहम भूमिका निभाई और वे लंबे समय से इसमें शामिल है.

और पढ़े -   लैंगिक समानता के बिना कोई भी समाज सफल नहीं: हामिद अंसारी

गौरतलब रहें कि पश्चिम बंगाल सीआईडी ने बच्चों की तस्करी करने वाले इस रैकेट का खुलासा बीते 21 नवंबर को किया था. यह रैकेट डॉक्टरों, वकीलों, सामाजिक कार्यकर्ताओं और कारोबारियों के आपसी गठजोड़ से चल रहा था. डॉक्टरों की मदद से नवजात अस्पतालों से गायब किए जाते थे, फ़िर बच्चों के नाम पर एनजीओ चलाने वाले कथित सामाजिक कार्यकर्ता उनकी बिक्री करते थे. कोलकाता सीआईडी इस रैकेट से जुड़े 15 मुलज़िमों को पहले ही गिरफ़्तार कर चुकी है.

और पढ़े -   गैंगरेप मामले में झूठ के जरिये मुजफ्फरनगर की फिजा बिगाड़ने की कोशिश, अफवाह फैलाने वाले शख्स को ट्विटर पर फोलो करते है मोदी

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE