cow1

देश भर में कथित गौरक्षा के नाम पर भगवा संगठनों द्वारा मुस्लिम समुदाय के लोगों के साथ किये जा रहें अत्याचार को लेकर मुस्लिम कुरैशी समुदाय ने देशव्यापी हड़ताल करने का फैसला किया हैं.

कुरैशी मुस्लिम समुदाय का मांस बेचने का मुख्य व्यवसाय हैं और इसी कारण कुरैशी मुस्लिम समुदाय के लोगों पर भगवा संगठनों द्वारा अत्याचार किया जाता हैं. ऐसे कई मामलें सामने आ चुके हैं जिसमे ये साबित भी हो चूका हैं.

अखिल भारतीय जमीयत-उल-कुरैशी के सदस्यों का इस बारें में कहना हैं कि कथित गोरक्षकों द्वारा धमकी और हिंसा के वातावरण पैदा करके हम लोगों से जबरन पैसा वसूला जा रहा है. जिसमें स्थानीय अधिकारी, विशेष रूप से पुलिस विभाग के लोग शामिल हैं. कुरैशी समुदाय इन दोनों उत्पीड़कों पर अंकुश चाहता है.

जमीयत-उल-कुरैशी का मानना है कि केंद्र में भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार अपनी विचारधारा की वजह से मुसलमानों के गुस्से का जवाब नहीं देगी. जमीयत-उल-कुरैशी के अनुसार गोहत्या के नाम पर कथित गोरक्षकों द्वारा किए जा रहे बवाल से सिर्फ भैंस ही नहीं बल्कि मटन और चिकन के व्यापार पर विशेष प्रभाव पड़ा है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें