jakir naik

जुलाई के महीने में बांग्लादेश की राजधानी ढाका में हुए आतंकी हमलें के बाद विवादों में आयें सलाफी स्कॉलर जाकिर नाइक की एनजीओ का लाइसेंस नवीनीकरण करने के मामलें में निलंबन का सामना कर रहें वरिष्ठ आईएएस अधिकारी जी. के. द्विवेदी का सरकार ने आज निलंबन वापस लेते हुए बहाल कर दिया हैं.

नाइक की एनजीओ इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन के लाइसेंस नवीनीकरण करने के मामलें में एक सितम्बर को गृह मंत्रालय ने विभागीय जांच के बाद जी. के. द्विवेदी  के अलावा दो उप सचिव और एक सेक्शन अधिकारी को भी निलंबित किया था.

केंद्र का निलंबन वापस लेने के फैसला आईएएस अधिकारियों के संगठन के दबाव के बाद लिया गया हैं. आईएएस अधिकारियों के संगठन और गृह मंत्रालय के दो वरिष्ठ अधिकारियों ने सरकार पर निलंबन वापस लेने को दबाव बनाया था.

द्विवेदी भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के 1993 बैच के आंध्रप्रदेश कैडर के अधिकारी हैं जो गृह मंत्रालय में संयुक्त सचिव थे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें