विपक्ष की और से राष्ट्रपति पद की साझा उम्मीदवार बनाई गई मीरा कुमार ने देश के तनावपूर्ण माहौल पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि इससे पहले कभी इस तरह का माहौल नहीं देखा गया.

उन्होंने कहा कि पहले भी धार्मिक मान्यताएं और प्रथाएं थी लेकिन हमने कभी भय का ऐसा माहौल नहीं देखा था. कुमार ने कहा कि लोगों को क्या खाना चाहिए और क्या कहना चाहिए, इसको लेकर भय का माहौल है.

और पढ़े -   आरटीआई में हुआ खुलासा: बीजेपी शासित राज्यों से चोरी हुई हजारों ईवीएम

लोकसभा की पूर्व स्पीकर ने कहा कि राष्ट्रपति पद के चुनाव में दो पक्षों के बीच एक का चयन किया जाना है जिनमें से एक पक्ष आवाज को दबाने, भयभीत करने और असहिष्णुता को बढ़ावा देने वाला है जबकि दूसरा पक्ष बहु धार्मिक समाज, सहिष्णुता और सभी धार्मिक संप्रदायों के प्रति सम्मान रखने वाला है.

कुमार ने कहा कि मेरा मानना है कि मैं बेहद ठोस आधार पर खड़ी हूं और मैंने सभी मतदाताओं को पत्र लिखा है और उनसे अपनी ‘अंतरात्मा’ के अनुसार मतदान करने को कहा है. उन्होंने राष्ट्रपति के राजग उम्मीदवार रामनाथ कोविंद पर निशाना साधते हुए इस बात पर बल दिया कि वह अभिव्यक्ति एवं मीडिया की स्वतंत्रता के लिए संघर्ष कर रही हैं.

और पढ़े -   दिल्ली के पांच सितारा होटल में सामने आया कलयुगी दुशासन , महिला कर्मी की साडी उतारने का किया प्रयास

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE