gilani

हुर्रियत नेता सैयद अली शाह गिलानी के सबसे बड़े बेटे डॉ. नईम को एनआईए ने नोटिस जारी कर एनआईए के शिवपोरा के दफ्तर में हाजिर होने को कहा है.

दूसरे देशों से कई बैंक खातों में धन आने के मामले में जांच के लिए एनआईए ने प्रारंभिक जांच (पीई) दर्ज की थी. इस धन का इस्तेमाल कथित तौर पर घाटी में राष्ट्र-विरोधी गतिविधियों के लिए किया जा रहा है. बताया जा रहा कि NIA के हाथ ऐसे कई अकाउंट्स लगे हैं, जिनके द्वारा मिलिटेंट्स तक पैसा पहुंचाया गया था. इन अकाउंट्स में विदेशों से पैसा आता है.

डॉ. नईम कई साल तक पाकिस्तान में डॉक्टर के तौर पर काम कर चुके हैं. कुछ साल पहले वे वापस आए थे. उधर एनआईए की टीम फिलहाल करीब 20 बैंक खातों की जांच कर रही है जिनमें कुछ गड़बड़ियां सामने आई हैं. इस मामले में कुछ लोगों को नोटिस भेजा जा चुका है. कुछ से पूछताछ भी हो चुकी है.

एक अधिकारी ने बताया कि  “कई एकाउंटों में पैसा डिपॉजिट हुआ है, लेकिन जमा करने वाले का रिश्ता उस खाते के मालिक से बिलकुल नहीं है. यही नहीं, यह भी पता चला है की पैसा डिपॉजिट होने के 48 घंटों के अंदर निकाल लिया गया.”


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें