जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर एम जगदीश कुमार ने मोदी सरकार से कारगिल विजय दिवस के अवसर पर JNU में भारतीय सेना का टैंक लगाने की मांग की. ताकि स्टूडेंट्स में सेना के प्रति प्रेम की भावना हो.

कुलपति एम. जगदीश कुमार ने केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और जनरल वीके सिंह से गुजारिश की कि वे विश्वविद्यालय को सेना का एक टैंक दिलवाने में मदद करें. कुलपति के मुताबिक टैंक को कैंपस में एक प्रमुख स्थान पर लगाया जाएगा ताकि वह छात्रों को सेना के बलिदानों की याद दिलाता रहे.

और पढ़े -   बुलेट ट्रेन को लेकर आशुतोष राणा का तंज कहा, उधार की 'चुपड़ी' रोटी से अच्छी श्रम से अर्जित की गयी 'सुखी' रोटी

जगदीश कुमार ने कार्यक्रम को ‘ऐतिहासिक’ करार देते हुए कहा कि यह थलसेना और देश के अन्य सुरक्षा बलों के बलिदान को याद करने के लिए एक अहम दिन है. टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक यह कार्यक्रम एचआरडी मिनिस्ट्री के विजय वीरता अभियान का हिस्सा था. कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और वी.के.सिंह भी शरीक हुए.

इस मौके पर धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि वह जेएनयू में बदलाव को देखकर हैरान हैं. यहां अब ‘भारत माता की जय’ जैसे नारे गूंजने लगे हैं. आपको बता दें कि “राष्ट्रवाद पैदा करने” के लिए जेएनयू परिसर में एक सैन्य टैंक को रखने का विचार 9 फरवरी, 2016 को आयोजित उस कार्यक्रम के बाद आया है जिसमें कथित रूप से भारत विरोधी नारे लगने के कारण छात्रों को राजद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किया गया था.

और पढ़े -   टीवी पर आने वाले फर्जी मौलानाओं की आएगी शामत, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड कसेगा शिकंजा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE