लखनऊ | उत्तर प्रदेश में योगी सरकार बने दो महीने से ज्यादा का समय हो चूका है. इन दो महीने के अन्तराल में योगी आदित्यनाथ ने कई महत्तवपूर्ण निर्णय ले मीडिया में खूब सुर्खिया बटोरी है. लेकिन जैसे जैसे समय आगे बढ़ रहा है वैसे वैसे योगी सरकार विवादों में घिरती जा रही है. पहले आगरा में बीजेपी कार्यकर्ताओ द्वारा पुलिस कर्मियों की पिटाई करने का मामला हो या फिर सहारनपुर में हुआ जातीय संघर्ष.

इन दोनों ही मामलो ने योगी सरकार की लोकप्रियता को झटका जरुर दिया है. अभी योगी सरकार इन झटको से उभर भी नही पायी थी की उनकी सरकार में मंत्री स्वाति सिंह की सोशल मीडिया पर वायरल हुई एक फोटो ने उनकी परेशानी को और बढ़ा दिया है. इस फोटो में स्वाति सिंह एक बियर बार का उदघाटन करते हुए दिख रही है. एक ऊँचे सिद्धांतो पर सरकार चलाने का दावा करने वाले योगी आदित्यनाथ के लिए बड़ा झटका है.

और पढ़े -   गौरक्षकों के डर से पहलू खान के ड्राइवर ने छोड़ा अपना मवेशी पहुंचाने का काम

इसलिए उन्होंने तुरंत इस मामले में स्वाति सिंह से स्पष्टीकरण माँगा है. इसके अलावा इस उदघाटन समारोह में शामिल हुए अधिकारियो से भी स्पष्टीकरण माँगा गया है. राज्य सरकार के प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी देते हुए कहा की मुख्यमंत्री योगी ने मीडिया में प्रसारित समाचारों का संज्ञान लेते हुए कृषि राज्य मंत्री स्वाति सिंह और अन्य अधिकारियो से पुरे मामले की जानकारी और स्पष्टीकरण देने को कहा गया है.

और पढ़े -   गौरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा के शिकार लोगो मुआवजा दे राज्य सरकारे- सुप्रीम कोर्ट

उधर स्वाति सिंह ने पुरे प्रकरण पर सफाई देते हुए कहा की इस मामले को बिना बात के ही तूल दिया जा रहा है. जिसको बियर बार बताया जा रहा है वो मेरी देवरानी की एक दोस्त का रेस्तरों था. मुझे इस बारे में ज्यादा जानकारी नही थी. रेस्तरों के मालिक ने केवल तीन दिनों के लिए लाइसेंस लिया था. उसको यहाँ बियर बार नही चलाना है. यही नही उसने बियर बार के लाइसेंस के लिए आवेदन भी नही किया है.

और पढ़े -   ऑपरेशन 'इंसानियत': भारत ने रोहिंग्याओं के लिए बांग्लादेश भेजी 700 टन राहत सामग्री की दूसरी खेप

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE