मोदी सरकार को लेकर एक बुरी खबर खबर सेंटर फॉर मीडिया स्‍टडीज (सीएमएस) की तरफ से कराए गए इस सर्वे से आ रही है जहाँ देश की आधी आबादी लगभग 50 प्रतिशत लोगो का मानना है की मोदी सरकार ने जिन अच्छे दिनों का वादा किया था उनका नामों निशाँन दूरतक नज़र नही आ रहा है तथा इन दो वर्षों में कोई बदलाव नज़र नही आया मंत्रियों के नाम और चेहरे बदले है लेकिन काम करने का तरीका वही पुराना है

इकोनॉमिक्स टाइम्स में प्रकाशित खबर के अनुसार सेंटर फॉर मीडिया स्‍टडीज (सीएमएस) की तरफ से कराए गए इस सर्वे में दावा किया गया कि सर्वे में शामिल करीब 43 प्रतिशत लोगों ने कहा कि मोदी सरकार के कार्यकाल में गरीबों को सरकारी योजनाओं और कार्यक्रमों का फायदा नहीं मिल पा रहा है।

जहाँ 50 प्रतिशत जनता का मानना है की बदलाव नही आया है वहीँ 70 प्रतिशत लोगो का कहना है की वो मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बने देखना चाहते है

देशभर के 15 राज्यों में कराए गये इस सर्वे में जिन मंत्रियों की कार्यक्षमता से लोग खुश है उनमे सुषमा स्‍वराज, राजनाथ सिंह, सुरेश प्रभु, मनोहर पर्रिकर, अरुण जेटली जैसे दिग्गज शामिल है।

वही दूसरी तरफ राम विलास पासवान, बंडारू दत्‍तात्रेय, राधा मोहन सिंह, जेपी नड्डा और प्रकाश जावडेकर की गिनती उन मंत्रियों में है जो अपना काम सुचारू ढंग से नही कर पाए है।

रेलवे, वित्‍त और विदेश मंत्रालय अच्छे प्रदर्शन करने वाले तथा श्रम और रोजगार, कानून, ग्रामीण विकास, उपभोक्‍ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण और सामाजिक न्‍याय और सशक्‍तीकरण वो मंत्रालय है जो अच्छा काम नही कर पाए है।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें