Subhas-Chandra-Bose-620x400

जापान सरकार ने साठ साल पुरानी एक रिपोर्ट के जरिए खुलासा किया हैं नेताजी की मौत विमान हादसे में हुई थी. रिपोर्ट के अनुसार नेताजी की मौत 18 अगस्त 1945 को ताइवान में एक विमान हादसे में हुई थी. ये रिपोर्ट 60 साल पुरानी बताई जा रही हैं.

60 साल पुराने इस दस्तावेज को ब्रिटिश वेबसाइट bosefiles.info पर सार्वजनिक किया गया है जिसमें उस विमान दुर्घटना की पूरी कहानी का जिक्र है. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि 18 अगस्त 1945 को विमान हादसे में बुरी तरह से घायल होने के बाद ताइपेई के एक हॉस्पिटल में उनकी मौत हो गई और 22 अगस्त को उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया.

रिपोर्ट के मुताबिक 48 साल के नेताजी सुभाष चंद्र बोस का विमान जैसे ही उड़ा और धरती से करीब 20 मीटर ऊपर उठा, इसके प्रोपेलर की एक पंखुरी टूट गई और इंजन गिर गया. इसके बाद विमान असंतुलित हुआ और हवाई पट्टी पर जा गिरा. विमान के गिरते ही उसमें आग लग गई.

रिपोर्ट में आगे कहा गया कि ‘उड़ान भरने के तत्काल बाद विमान नीचे गिर पड़ा जिसमें वह (बोस) सवार थे और वह घायल हो गए. शाम को करीब तीन बजे उन्हें ताइपेई सैन्य अस्पताल की नानमोन शाखा ले जाया गया और शाम करीब सात बजे उनका देहांत हो गया.

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि नेताजी के कपड़ों में भी आग लग गई और जलती हुई अवस्था वे विमान से बाहर निकले. कर्नल हबीबुर रहमान और अन्य सहयात्रियों ने नेताजी के कपड़ों में लगी आग को बुझाने की कोशिश की लेकिन तब तक वह बुरी तरह से झुलस गए थे.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें