श्रीनगर | कांग्रेस के दिग्गज नेता और अपने बयानों से हमेशा सुर्खियों में रहने वाले मणिशंकर अय्यर आजकल एक प्रतिनिधिमंडल के साथ कश्मीर दौरे पर है. वो यहाँ सभी राजनितिक दलों और अलगावादियों से बात कर रहे है. गुरुवार को उन्होंने हुर्रियत कांफ्रेंस के नेताओं से बात की. इस दौरान पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा की मुझे नही लगता की प्रधानमंत्री मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह कश्मीर समस्या को सुलझा सकते है.

बीबीसी से बात करते हुए मणिशंकर ने कहा की अगर अभी इन लोगो से बातचीत नही की गयी तो आगे हालात और बिगड़ जायेंगे. फ़िलहाल हमें लग रहा है की लोग जाकिर मूसा (हिजबुल कमांडर) के पीछे जुड़ रहे है. अगर ऐसा है तो क्या हम गिलानी की जगह मूसा से बात करेंगे. उसका मानना है की कश्मीर सियासी नही बल्कि इस्लामी और गैर इस्लामी मसला है. इसलिए हमें ठोस कदम उठाने पड़ेंगे. नही तो ऐसा भी हो सकता है की हमारे पास कश्मीरियों के खिलाफ जंग छेड़ने के अलावा कोई चारा ही न बचे.

और पढ़े -   449 निजी स्कूलों को टेकओवर करने की तैयारी में केजरीवाल सरकार

कश्मीर समस्या पर राजनाथ सिंह के बयान पर जिसमे उन्होंने कहा था की हम हमेशा के लिए इस समस्या का हल तलाश करेंगे, पर प्रतिक्रिया देते हुए अय्यर ने कहा की पीछले तीन सालो से तो उनसे कोई हल नही निकला जबकि पहले कहा था की हम एक महीने में इसका हल निकाल लेंगे. मैं इन लोगो का यकीन नही करता. वो चाहे भी तो इसको हल नही कर सकते क्योकि उनकी पार्टी मोदी की तानाशाही के नीचे दबी हुई है. इसलिए दो साल इन्तजार करना होगा. मोदी सरकार जाने के बाद हम इस पर आगे बढ़ पाएंगे.

और पढ़े -   भारत में रह रहे रोहिंग्या मुस्लिम बोले - हमें मार दो लेकिन म्यांमार मत भेजों

पत्थरबाजो को आम माफ़ी देने के सवाल पर उन्होंने कहा की पत्थरबाजो को बन्दुक से जवाब नही देना चाहिए. क्योकि कल हो सकता है की वो पत्थर छोड़ बन्दूक उठा ले. फ़िलहाल कश्मीर के लोगो में काफी गुस्सा और तनाव है. इसलिए बातचीत के जरिये पहले कश्मीरियों को अपने साथ जोड़े. फ़ौज लाकर इनको दबाया नही जा सकता. एक व्यक्ति को मानव ढाल बनाने पर उन्होंने कहा की हमारी सरकार उस सेना अधिकारी को कभी सम्मानित नही करती क्योकि कश्मीरियों को धमकियों से नही दबा सकते.

और पढ़े -   सिनेमा हॉल में राष्ट्रगान बजने के दौरान नही खड़े हुए तीन कश्मीरी छात्र , मामला दर्ज

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE