मुंबई | 10 जुलाई को कश्मीर के अनंतनाग में अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले के बाद जिस शख्स की सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है वो है सलीम शेख. सलीम उस बस का ड्राईवर था जिस पर आतंकी हमला हुआ था. हमले के बाद बस के यात्रियों ने मीडिया को बताया की अगर सलीम सुझबुझ नही दिखाता तो शायद ही कोई यात्री इस हमले में बच पाता. तब से सलीम की बहादुरी के चर्चे पुरे देश में हो रहे है.

सलीम की बहादुरी को देश का हर नागरिक सलाम कर रहा है. यही कारण है की गुजरात सरकार ने सलीम का नाम बहादुरी पुरस्कार के लिए भेजने का फैसला किया है. उधर जम्मू कश्मीर सरकार ने भी सलीम की बहादुरी को सलाम करते हुए उन्हें तीन लाख रूपए देने की घोषणा की है. इसी बीच मशहूर गायक सोनू निगम ने भी सलीम के जज्बे को सलाम करते हुए उनकी आर्थिक मदद करने का एलान किया है.

मुंबई मिरर से बात करते हुए सोनू निगम ने कहा की आतंकी हमले के दौरान सलीम ने जो हिम्मत दिखाई वो काबिले तारीफ है. इसके लिए सलीम को सरकार की और से बहादुरी का पुरस्कार भी दिया जा रहा है. लेकिन मैं मानता हूँ की उनकी आर्थिक मदद भी होनी चाहिए. इसलिए मैंने उनको 5 लाख रूपए देने का फैसला किया है.

बताते चले की जब अमरनाथ यात्रियों की बस पर आतंकी हमला हुआ तो सलीम ने सूझबूझ दिखाते हुए बस को नही रोका. वह बस को तब तक भगाता रहा जब तक उसे सेना की चौकी नही दिखाई दी. सलीम के अनुसार हमलावरों की संख्या 5 से 6 के बीच थी और लगातार बस पर अंधाधुंध फायरिंग कर रहे थे. इस हमले में 7 श्रदालुओ की मौत हो गयी जबकि 32 यात्री घायल हो गए. बताया जा रहा है की अगर सलीम बहादुरी न दिखाता तो मरने वालो की तादात और बढ़ सकती थी.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE