vara

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के रोड शो में जुटी इस भीड़ ने विरोधियों को सोचने पर मजबूर कर दिया है कि कांग्रेस पार्टी को हल्के में लेना सबसे बड़ी भूल हो सकती है. पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के साथ समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और भाजपा के प्रमुख चिंतन में डूब गए हैं.

अब कांग्रेस पार्टी वाराणसी के रोड शो की तरह मध्य और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी ऐसे रोड शो करने की योजना बना रही हैं. कांग्रेस पार्टी नेता बताते हैं कि आने वाले दिनों में पार्टी पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी की रैलियां भी आयोजित की जाएगी, ताकि उनके समर्थकों का मनोबल भी बढ़ाया जाए और प्रियंका गांधी की भी अलग से रैली होगी.

और पढ़े -   रोहित वेमुला नहीं थे दलित, आत्महत्या की वजह कॉलेज प्रशासन नहीं: जांच रिपोर्ट

यदि इसी रणनीति से पार्टी यदि चलती रही और अपने दम पर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ती है तो सत्ता में आने से भले ही उसे दूर रहना पड़े, लेकिन चौंकाने वाले परिणाम देने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE