नई दिल्ली | आजकल सोशल मीडिया पर मशहूर संगीतकार ए आर रहमान का एक बयान काफी शेयर किया जा रहा है. खासकर दक्षिणपंथी संगठन इस बयान को खूब वायरल कर रहे है. दरअसल उनके अनुसार ए आर रहमान ने एक इंटरव्यू में गाय को लेकर कहा था की गाय को मारने से अरबो हिन्दुओ की आस्था प्रभावित होती है इसलिए हमें इसे रोकना होगा. यही नही ए आर रहमान के इस बयान को केन्द्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण भी ट्वीटर पर शेयर कर चुकी है.

दरअसल एक ट्विटर अकाउंट @sgurumurthy ने पोस्टकार्ड समाचार के हवाले से एक तस्वीर को पोस्ट किया. जिस पर पोस्टकार्ड का लोगो लगा हुआ है और उस पर ए आर रहमान का बयान लिखा हुआ है. इसमें ए आर रहमान कह रहे है ,’मैं बीफ़ नहीं खाता हूं. मेरी मां हिंदू है. मैं अपनी मां को धार्मिक उत्सवों के दौरान गायों की पूजा करते हुए देखता था. मैंने सूफीवाद के मार्ग को चुना, लेकिन मैं अभी भी गाय को जीवन का पवित्र प्रतीक मानता हूं,’

और पढ़े -   डॉ कफील अहमद को रेपिस्ट बताने वाले का परेश रावल ने किया समर्थन, बरखा दत्त को बताया दीमक

ए आर रहमान आगे कहते है की गायों को मारने से अरबों हिंदुओं की भावनाएं प्रभावित होती हैं, इसलिए हमें इसे रोकना होगा. मवेशी वध को रोकने के लिए केंद्र सरकार द्वारा उठाए गए प्रयासों का मैं स्वागत करता हूं. sgurumurthy के इसी ट्वीट को निर्मला सीतारमण ने रीट्वीट किया. लेकिन जब इस खबर की तय तक पहुंचा गया तो पता चला की एआर रहमान ने इस तरह का बयान कभी दिया ही नही. उन्होंने  नासिरिन मुन्नी कबीर द्वारा लिखी गयी किताब ‘एआर रहमान दी स्पीयर ऑफ़ म्यूजिक’ के लिए जरुर इंटरव्यू में कुछ इस तरह की बाते की थी.

इस इंटरव्यू में जब उसने उनकी माँ के अध्यात्म के बारे में पुछा गया तो उन्होंने कहा था की मेरी माँ हिन्दू थी, वो अध्यात्मिक तौर पर काफी जुडी हुई थी. हबीबुल्ला रोड पर स्थित हमारे घर की दीवारों पर भी काफी देवी देवताओं की तस्वीरे लगी हुई थी. इसके अलावा यहाँ मदर मेरी की यीशु को गोद में लिए और मक्का मदीना जैसे पाक स्थलों की तस्वीरे भी मौजूद थी. इंटरव्यू के इसी भाग को दक्षिणपंथी संगठनों ने तोड़ मरोड़कर पेश किया है .

और पढ़े -   चीन के साथ कभी-भी हो सकती है भारत की झड़प: पूर्व सेनाप्रमुख वीपी मलिक

खुद इस बात की पुष्टि निर्मला सीतारमण ने भी की है. उन्होंने पहले sgurumurthy ट्वीट को रीट्वीट कर दिया लेकिन बाद में खबर की सच्चाई पता चलने पर उन्होंने इस ट्वीट को वापिस लेना बेहतर समझा. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा की मैं अपने रीट्वीट को वापिस ले रही हूँ क्योकि यह सत्यापित खबर नही है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE