केंद्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नजमा हेपतुल्ला ने उत्तर प्रदेश सरकार को आगाह करते हुए कहा कि अगर वक्फ बोर्ड की सम्पत्तियों से अवैध कब्जे नहीं हटवाए गए तो वह खुद धरने पर बैठेंगी।

हेपतुल्ला ने कहा कि वक्फ की सर्वाधिक सम्पत्ति उत्तर प्रदेश में है और यहीं पर सबसे ज्यादा अवैध कब्जे हैं। वक्फ की सम्पत्तियों से कब्जा हटवाने के लिए वह मुख्यमंत्री को पत्र लिखेंगी, इसके बावजूद अवैध कब्जे नहीं हटे तो भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश अध्यक्ष धरने पर बैठेंगे और उनके साथ वह भी यहां आकर बैठेंगी।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि समाजवादी पार्टी (सपा) सरकार पर अल्पसंख्यकों के हितों के लिए काम नहीं कर रही है। सपा सरकार केवल अल्पसंख्यकों का नाम लेती रहती है, अल्पसंख्यकों के लिए कोई काम नहीं करती। उन्होंने कहा कि हाल ही में दिल्ली में उन्होंने अल्पसंख्यकों के हितों के लिए बनी योजनाओं के सिलसिले में बैठक बुलायी थी। उत्तर प्रदेश को छोड़ अन्य सभी राज्यों के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री या उनके प्रतिनिधि आये थे।

पिछले साल भी इसी तरह की बैठक बुलायी गयी थी, उसमें भी उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मोहम्मद आजम खां और अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष नहीं गये थे। हेपतुल्ला ने कहा कि वक्फ बोर्ड की जमीन पर लगातार कब्जा होता जा रहा है। उस पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। अल्पसंख्यक कल्याण की योजनाओं के लिए केन्द्र के पैसे का यूटिलाइजेशन सर्टीफिकेट भी नहीं दिया जा रहा है, इसलिए और पैसा देने में दिक्कते आ रही हैं। (News24)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें