नई दिल्ली: राष्ट्रद्रोह का मुकदमा झेल रहे जेएनयू स्टूडेंट यूनियन के प्रमुख कन्हैया कुमार ने आज एक विरोध प्रदर्शन से पहले कहा कि एचआरडी मंत्री को पद से हट जाना चाहिए।

'स्मृति ईरानी को जाना चाहिए', विरोध प्रदर्शन से पहले बोले कन्हैया कुमार

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :
  1. कन्हैया कुमार ने कहा कि उन्हें यूनिवर्सिटी प्रशासन की ओर से कारण बताओ नोटिस मिला है।
  2. मार्च फॉर डेमोक्रेसी नाम के प्रदर्शन से पहले कन्हैया ने मीडिया से बात की।
  3. कन्हैया कुमार ने कहा कि हमारी मांग है कि स्मृति ईरानी इस्तीफा दें, जेल में बंद दोनों छात्रों को छोड़ा जाए, यूनिवर्सिटी के ऑटोनोमी में दखल न दी जाए और कॉलेजों में जातिगत राजनीति पर रोक लगे।
  4. खबर है कि जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) की एक उच्चस्तरीय समिति ने कथित रूप से राष्ट्रविरोधी नारेबाजी वाले पिछले महीने के एक विवादित कार्यक्रम में कथित भूमिका को लेकर कन्हैया कुमार, उमर खालिद, अनिर्बान भट्टाचार्य और दो अन्य छात्रों को निकालने की सिफारिश की है।
  5. कुलपति की अध्यक्षता में विश्वविद्यालय के शीर्ष अधिकारियों की बैठक में सोमवार को इस रिपोर्ट पर चर्चा हुई जिसके बाद विश्वविद्यालय ने कन्हैया और उमर सहित 21 छात्रों को कारण बताओ नोटिस भेजे।
  6. ये छात्र विश्वविद्यालय नियम एवं अनुशासन के उल्लंघन के दोषी पाए गए थे।
  7. टीचरों और छात्रों की मांग है कि जांच रिपोर्ट को सार्वजनिक किया जाए।
  8. एक छात्र आनंद प्रकाश का आरोप है कि नोटिस अस्पष्ट है। प्रशासन को आरोप साफ करना चाहिए।
  9. कन्हैया कुमार, उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्या को पिछले में राष्ट्रद्रोह के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।
  10. कन्हैया कुमार को सशर्त जमानत दी गई है और उमर खालिद और भट्टाचार्य अभी भी जेल में हैं। (NDTV)

लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें